मौसम: आज देश के इन 20 राज्यों में बारिश की संभावना


देश के कई राज्यों में अब मानसून सक्रियकई राज्यों में धूल भरी आंधी और तेज हवाओं के साथ बारिश शुरू...


दिल्ली / देश के कई राज्यों में अब मानसून सक्रिय होने लगा है। इस समय धूल भरी आंधी और तेज हवाओं के साथ बारिश के समाचार अलग-अलग राज्यों से  से प्राप्त  हो रहे हैं। उत्तर भारत में मानसून जल्दी ही दस्तक दे सकता है। मौसम विभाग के अनुसार उत्तर प्रदेश, दिल्ली, उत्तराखंड, राजस्थान और हरियाणा के कई इलाकों में 22 से 23 जून तक मानसून पहुंचने से राहत मिलेगी। मौसम विभाग के मुताबिक, दिल्ली एनसीआर में 25 जून को मानसून आने की संभावना जताई जा रही है, जिसके बाद पूरे उत्तर भारत में मानसून पूरी तरह फैल जाएगा। मौसम के जानकारों का अनुमान है कि आज शनिवार को देश के एक दर्जन से अधिक राज्यों में बारिश होने की संभावना है।
- अगले 24 घंटों के दौरान कोंकण और गोवा, मध्य महाराष्ट्र, केरल, ओडिशा, तेलंगाना, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, उत्तराखंड, जम्मू कश्मीर, पर हल्की से मध्यम बौछारें पड़ने का अनुमान है।
अगले 24 घंटों के दौरान बिहार, पूर्वी उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, पूर्वी और मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, तटीय कर्नाटक और पूर्वोत्तर भारत में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है।
यहां हो सकती है भारी बारिश पूर्वानुमान के अनुसार अगले 24 घंटों के दौरान पश्चिम बंगाल, सिक्किम, कोंकण-गोवा, कर्नाटक, केरल में भारी बारिश की आशंका जताई जा रही है। इसके अलावा पूर्वोत्तर भारत के कुछ राज्यों में भी झमाझम बारिश देखने को मिल सकती है। मध्य प्रदेश, बिहार और छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों में मध्यम से भारी बारिश हो सकती है।

इन राज्यों में मध्यम बारिश की संभावना

उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, दक्षिणी गुजरात, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश, झारखंड, ओडिशा, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह, लक्षद्वीप और तेलंगाना के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है।
उत्तर प्रदेश में शुरू हो चुकी है बारिश, अगले दो दिन बढ़ेगा मानसून
उत्तर प्रदेश में जोर पकड़ रहे मानसून की वजह से राज्य के अनेक पूर्वी हिस्सों को जमकर बारिश हुई। आंचलिक मौसम केंद्र की रिपोर्ट के मुताबिक, प्रदेश के पूर्वी हिस्सों में मानसून पूरी तरह सक्रिय है। पश्चिमी भागों में इसने अभी रफ्तार नहीं पकड़ी है। अगले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के पूर्वी हिस्सों में अनेक स्थानों पर, जबकि पश्चिमी भागों में कुछ जगहों पर बारिश होने अथवा गरज चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। कुछ स्थानों पर तेज हवा के साथ गरज-चमक की स्थितियां बन सकती हैं।

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में झमाझम बरसात

राजधानी भोपाल में झमाझम बरसात से जून में बारिश का छह साल का रिकॉर्ड टूटा। यह जून माह की पिछले छह साल में सबसे अधिक बारिश है। विगत तीन दिनों में ही बुधवार गुरुवार शुक्रवार को जून के बारिश के कोटे 13.8 से करीब 2 गुना यानी 24.6 8 सेंटीमीटर बारिश हो चुकी है मौसम वैज्ञानिक के अनुसार जून में अब तक यानी शुक्रवार रात तक 32.25 सेंटीमीटर बारिश हो चुकी है। यह अब तक की सामान्य वारिश से 27.65 सेंटीमीटर अधिक है मौसम केंद्र के अनुसार शनिवार को भी भोपाल, होशंगाबाद,  जबलपुर, रीवा संभाग के कई शहरों में भारी बारिश होने की संभावना है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक, रुक-रुक कर हल्की बौछारें पड़ने का दौर अभी जारी रहेगा।

मध्य महाराष्ट्र में बेमौसम बारिश हुई और तटीय इलाकों में आया 'चक्रवात निसर्ग' ने राज्य को अधिक वर्षा वाली श्रेणी में पहुंचा दिया है। आईएमडी के आंकड़ों के मुताबिक, मुंबई और एमएमआर क्षेत्र में 1 से 18 जून के बीच काफी अधिक बारिश हुई है।

इस बीच राजस्थान के कई इलाकों में भीषण गर्मी के चलते रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है। बीते बुधवार को राजस्थान के बीकानेर में तापमान 47 डिग्री दर्ज किया गया। इसके बाद मौसम विभाग ने राज्य के कुछ इलाकों में भीषण गर्मी के चलते रेड अलर्ट जारी कर दिया है। मौसम विभाग ने पंजाब और हरियाणा में भी अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने कहा कि हरियाणा, पंजाब में अधिकतम तापमान सामान्य से अधिक रिकॉर्ड पर दर्ज किया है। हिसार में सबसे ज्यादा गर्म मौसम रहा। जहां तापमान 10 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। आने वाले दिन में यहां पर गर्मी और भी बढ़ सकती है।

Post a Comment

0 Comments