जिला संकट प्रबंधन समूह की बैठक संपन्न


गुना। जिले में एक जुलाई 2020  से किल कोरोना अभियान चलेगा। इस दौरान घर-घर सर्वे होगा। इसमें स्वास्थ्य  विभाग के साथ-साथ अन्य विभाग का अमला भी लगेगा। कोई भी कोरोना महामारी से संक्रमित व्यक्ति छूटे नहीं। नागरिकगण सोशल डिस्टेन्सिग, मास्क लगाने और सेनेटाइजर से हाथ सेनेटाइज करने के निर्देशों का पालन करें। कोरोना महामारी का संकट अभी टला नहीं है। जरा सी लापरवाही भयानक रूप ले लेगी। जिले के नागरिक सजग एवं सतर्क रहें ताकि वे कोरोना महामारी से बचने में सफल रहें और स्वस्थ्य रहें। उक्त बात क्षेत्रीय सांसद डॉ.के.पी. यादव ने जिला कार्यालय में आयोजित जिला संकट प्रबंधन समूह की आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए कही।
बैठक के प्रारंभ में कलेक्टर एस.विश्वनाथन द्वारा जिले में कोरोना महामारी से बचने, अब तक की गई कार्रवाईयों और कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के उपचार एवं स्वास्थ्य होने की अद्यतन स्थिति बताई गयी। उन्होंने कहा कि नागरिकगण उपचार के लिए बाहर जाएं तो सावधानी और सतर्कता बरतें। सोशल डिस्टेन्स  का पालन करें, चेहरे में मास्क लगाएं अथवा किसी कपड़े से ढंककर रखें तथा हाथ साबुन से अथवा अल्कोहलिक सेनेटाइजर से नियमित अंतराल से साफ रखें। कोरोना संक्रमण से स्वयं के बचाव के लिए सावधानी अत्यावश्यक है।
उन्होंने कहा कि किसी क्षेत्र में कोई कोरोना संक्रमित व्यक्ति पाया जाता है तो उस क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन बनाना पड़ता है ताकि संक्रमण का फैलाव नही हो। इससे क्षेत्र के नागरिकों को अनावश्यक परेशानियों का सामना करना पड़ता है और आर्थिक एवं व्यावसायिक गतिविधियां प्रभावित भी होती हैं। उन्होंने कहा कि सावधानी और सतर्कता बरतेंगे तो ऐसी स्थिति निर्मित नहीं होगी। उन्होंने जिले में अनलॉक के मद्देनजर कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने हेतु रणनीति में आवश्यकता बताई और जिला संकट प्रबंधन समिति के सदस्यों से आवश्य सुझाव चाहे तथा मास्क नहीं तो टोकेंगे-कोरोना को हम रोकेंगे, के संदेश को जन-जन तक पहुंचाने और जनजागरूकता में जनसहयोग की बात कही। उन्होंने कहा कि बिना जनसहयोग के कोई भी अभियान सफल नहीं हो सकता है। इसमें सभी की भागीदारी आवश्येक है ताकि जिला कोरोना संक्रमण अथवा उसके फैलाव से पूरी तरह मुक्त रहे।
इस अवसर पर कलेक्टर श्री विश्वनाथन द्वारा गुना शहर में बिना अनुमति भवन मालिकों द्वारा तलघर बनवाने, अथवा अनुमति लेकर उसकी शर्तो का पालन नही करने के कारण जनहानि होने के खतरे की ओर सभी का ध्यान आकर्षित किया और अवैध कार्यो के विरूद्ध कार्रवाई की आवश्यकता बताई। जिसका सभी ने समर्थन भी किया। इस अवसर पर चांचौडा विधायक लक्ष्मण सिंह, गुना विधायक गोपीलाल जाटव, पुलिस अधीक्षक तरूण नायक सहित जिला संकट प्रबंधन समिति के सदस्यों  द्वारा कोरोना संक्रमण से नागरिकों के बचाव के लिए आवश्यक सुझाव दिए गए। बैठक में अपर कलेक्टर लोकेश कुमार जांगिड़, विभिन्न एसोसिएशन, व्यापारिक संघों, रोटरी क्लब आदि के पदाधिकारी मौजूद रहे।

Post a Comment

0 Comments