बजाज फायनेस में फर्जी तरीके से लोन निकलने वाले एक आरोपी को न्यायालय ने भेजा जेल


CLICK -  

गुना। (प्रदेश केसरी) बजाज फायनेस में फर्जी तरीके से लोन निकलने वाले 4 आरोपीगण में से एक आरोपी को न्यायालय ने जेल भेजा है। उक्त मामले में बजाज फायनेस के कर्मचारी से मिलकर फर्जी लोन निकलने की साजिश की गई थी। न्यायालय मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के न्यायालय में एक आरोपी कपिल किरार निवासी ग्राम झागर को गिरफ्तार कर पेश किया गया। प्रकरण में शासन की ओर से पैरवी सविता बजाज द्वारा वीडियो कॉन्फेंरसिंग के माध्यम से की गई। जिसके आधार पर न्यायालय ने आरोपी को जेल भेज दिया।

मीडिया सेल प्रभारी निर्मल कुमार अग्रवाल ने बताया कि आवेदक संतोष वर्मा मैनेजर बजाज फायनेस लिमिटेड एबी रोड गुना ने थाना में शिकायत दर्ज कराई कि वीरेन्द्र किरार एवं कपिल किरार निवासीगण झागर थाना बमौरी द्वारा संरक्षक अरविंद किरार पुत्र रामस्वरूप किरार आर्य मोबाइल एंड इलेक्ट्रॉनिक की दुकान लक्ष्मीगंज के द्वारा मिलकर सरकारी दस्तावेजो में हेरफेर व फर्जीवाड़ा कर फायनेंस कराया था। जिसमें हमारी बजाज फायनेंस कम्पनी शाखा गुना में बजाज फायनेस का कर्मचारी जो आर्य मोबाइल इलेक्ट्रॉनिक की दुकान लक्ष्मीगंज पर हमारा कर्मचारी शिवम यादव पवन कॉलोनी गुना से मिलकर इन सभी लोगो ने एक राय होकर हमारी बजाज फायनेंस कंपनी के लोगों से मिलकर उनके दस्तावेज में हेराफेरी कर हमारी फायनेंस से अवैध तरीके से लोन निकलवाया गया हैं। जिन व्यक्तियों के नाम से लोन निकलवाए गये है उन लोगों में विनोद  अहिरवार 22000, निरंजन  सिंह धाकड़ 36490, जमुनालाल लोधा 28000, यशपाल सिंह चौहान 30000, जिनेश जैन 65000, परमानंद  मीना 32000, धिमन यादव 28000 कुल योग 241490 रुपए का लोन इन व्यक्तियों के नाम से निकलवाए गए। उक्त लोगों से संपर्क कर पूछताछ किया तो उनके द्वारा कोई लोन नहीं लिया गया बताया। इस तरह उक्त लोगों द्वारा कंपनी के कर्मचारी शिवम यादव के साथ मिलकर फर्जी तरीके से अवैध लोन कराया गया हैं। उक्त रिपोर्ट पर से कंपनी में धोखाधड़ी जालसाजी करने वाले कर्मचारी व उनके साथ उक्त आरोपीगण वीरेन्द्र किरार, कपिल किरार एवं अरविंद किरार निवासीगण ग्राम झागर बमौरी के विरूद्ध कोतवाली गुना में अपराध क्रमांक 192/2020 पर अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया था।

Post a Comment

0 Comments