सीएमओ के खेत पर खुदाई कर रही नपा की जेसीबी मामले में डिप्टी कलेक्टर ने सौंपी कलेक्टर को जांच रिपोर्ट

जांच में रिपोर्ट में बताया प्रथम दृष्टया दोषी, गाय गिरने के नहीं मिले साक्ष्य

CLICK -  

गुना। (प्रदेश केसरी) नगरपालिका सीएमओ संजय श्रीवास्तव के म्याना स्थित खेत में नगरपालिका की जेसीबी द्वारा खुदाई करने के मामले में डिप्टी कलेक्टर सोनम जैन ने जांच रिपोर्ट कलेक्टर को सौंपी है। जिसमें सीएमओ श्री श्रीवास्तव को पूरे मामले में प्रथम दृष्टया दोषी पाते हुए नपाध्यक्ष राजेन्द्र सिंह सलूजा द्वारा की गई शिकायत को सही बताया है। उक्त जांच रिपोर्ट में डिप्टी कलेक्टर श्रीमती जैन ने सीएमओ सहित विभिन्न अधिकारी कर्मचारियों, जेसीबी ड्रायवर के कथन लिए थे। उक्त कथनों, फोटोग्राफ, वीडियो देखने के बाद यह निष्कर्ष निकला कि सीएमओ द्वारा अपने पुत्र अनिमेष श्रीवास्तव के ग्राम म्याना स्थित खेत पर नपा की शासकीय जेसीबी से 4 घंटे से अधिक समय तक मिट्टी लेवलिंग का कार्य करवाया एवं 5 हजार रुपए की रसीद कटवाई। कुए में गाय गिरने एवं निकालने के कोई प्रमाण नहीं दिखे। नपा की शासकीय जेसीबी प्रथम बार नगरीय क्षेत्र की सीमा से लगभग 20 किमी दूर ग्राम म्याना गई। जांच रिपोर्ट में डिप्टी कलेक्टर श्रीमती जैन ने उल्लेख किया कि नपा अधिनियम एवं अन्य कोई नियम, निर्देश में यह ज्ञात नहीं हुआ कि नपा की शासकीय जेसीबी को शुल्क कटवाने के पश्चात कोई शासकीय अधिकारी, कर्मचारी अपने निजी उपयोग में उपयोग कर सकता है।
दरअसल विगत जून माह में नपा सीएमओ श्री श्रीवास्तव के म्याना स्थित खेत पर नपा की जेसीबी द्वारा काम करने का मामला सामने आया था। हालांकि मामला तूल पकड़ते देखे सीएमओ श्री श्रीवास्तव ने खेत के कुएं में गाय के गिरने के लिए जेसीबी इस्तेमाल करने की बात कही। दरअसल म्याना स्थित सीएमओ के खेत पर नपा की जेसीबी द्वारा काम करने के फोटो और वीडियो वायरल हुए थें। जिसे नपाध्यक्ष राजेन्द्र सिंह सलूजा ने हाथों हाथ सीएमओ के खिलाफ मोर्चा खोल लिया था। वहीं इस बारे में सीएमओ श्री श्रीवास्तव ने सफाई देते हुए कहा था कि उनके फार्म हॉउस पर कुआ की खुदाई हुई थी, उसमें आज सुबह उसमें गाय गिर गईं थी। गाय की जान बचाना जरूरी था, इसलिए नपा से पर्ची कटाकर मशीन मंगाई थी।

Post a Comment

0 Comments