20 हजार उधार के 85 हजार वापस देने के बावजूद सूदखोर कर रहा था परेशान, फरियादी ने लगाई एसडीएम से गुहार

बीस हजार रुपए लिये थें उधार, सूदखोरों की आठ गुना राशि बढ़ा देने से सूदखोरों से लोग परेशान 

CLICK -  

गुना। (प्रदेश केसरी) जिले भर में सूदखोरों का मकडज़ाल फैला हुआ है। जिसके चंगुल में सबसे अधिक किसान, मजदूर वर्ग के लोग आ रहे हैं। सूदखोरों पर सख्त कार्रवाई की मांग लंबे समय से उठती रही। हाल ही में चांचौड़ा विधायक ने जिला प्रशासन से ऐसे सूदखोरों की लिस्ट बनाकर इन पर कार्रवाई की मांग की थी । ताजा मामला चांचौड़ा तहसील के ग्राम अरन्या का है। यहां रहने वाले गरीब किसान रंग लाल पुत्र उम्मेदा अहिरवार ने एसडीएम चाचौड़ा राजीव समाधिया के समक्ष गुहार लगाई कि उन्होंने गांव में रहने वाले शासाकीय शिक्षक कन्हैयालाल अहिरवार से बीस हजार रुपए उधार लिए थे और अभी तक में 85000 उनको दे चुका हूं। किंतु वह ब्याज पर ब्याज लगाकर मुझसे 86000 और मांग रहे हैं और कह रहे हैं कि 1 बीघा जमीन की नोटरी करवा दो नहीं तो मैं आप के खिलाफ कार्रवाई करूंगा। फरियादी के उक्त आवेदन पर एसडीएम ने गंभीरता से लेकर तत्काल शिक्षक कन्हैयालाल को अपने समक्ष में बुलवाया और उनको कड़ी फटकार लगाई। एसडीएम की फटकार के बाद शिक्षक ने आवेदक के समक्ष में ही लिख कर दिया कि भविष्य में वह किसी भी प्रकार की राशि की मांग नहीं करेगा। इस प्रकार एसडीएम की कड़ी फटकार के बाद गरीब व्यक्ति को तत्काल न्याय प्राप्त हुआ और साहूकार के चंगुल से बच सका।

Post a Comment

0 Comments