बमौरी उपचुनाव प्रदेश के विकास का चुनाव - नागर

बमौरी में कार्यकर्ता सम्मेलन में बोले सांसद नागर

CLICK -  

गुना। पंद्रह माह की कमलनाथ सरकार में कोई काम नहीं हुआ था जनता त्रस्त हो गई थी ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जब जनता की आवाज उठाई तो सत्ता के मद में मस्त तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सिंधिया जी से कहा कि आप सड़क पर उतरते हैं तो उतर जाएं। इसके बाद सिंधिया जी ने ऐसा किया की पूरी कमलनाथ सरकार ही सड़क पर आ गई। दरअसल ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सरकार गिराने का फैसला जन हित में लिया है। इसलिए बमौरी चुनाव भाजपा कांग्र्रेस का नहीं बल्कि प्रदेश बचाने और जनहित की रक्षा का है।
यह बात कार्यक्रम के मुख्यअतिथि सांसद एवं बमौरी विधानसभा उपचुनाव के प्रभारी रोडमल नागर ने बमौरी में कार्यकर्ता सम्मेलन के दौरान कही।इस मौके पर कार्यक्रम की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष गजेंद्र सिंह सिकरवार ने की।  उन्होंंने कहा कि कमलनाथ सरकार में पूरी योजनाएं ठप हो गईं थीं,जनता परेशान थी। शिवराज सिंह चौहान की सरकार बनते ही एक बार फिर संबल योजना सहित तमाम योजनाएं लागू हो गईं हैं। उन्होंने कहा कि यह उपचुनाव केवल हमारे प्रत्याशी या पार्टी का नहीं है बल्कि हर पार्टी कार्यकर्ता का है। इसमें पार्टी कार्यकर्ता घर घर पहुंचकर जनता से संपर्क करे यह हर पार्टी कार्यकर्ता की लड़ाई है। इस मौके पर भाजपा जिलाध्यक्ष गजेंद्र सिंह सिकरवार ने कहा कि हमारा नारा है बूथ जीता चुनाव जीता । इसलिए पार्टी कार्यकर्ताओं को अपने अपने बूथ पर कड़ी मेहनत करनी होगी। अगर हर बूथ जीत गया  तो चुनाव तो हम आसानी  से जीत जाएंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा के सामने मैदान खाली है । कांग्रेस में कोई नेता नहीं है कोई उम्मीदवार नहीं है। ऐसी स्थिति में हम अपनेे उम्मीदवार को अधिक से अधिक मतों से विजय बनाए। इस मौके पर बमौरी विधानसभा क्षेत्र के चुनाव संचालक हरिसिंह यादव और विधानसभा क्षेत्र के संयोजक ओएन शर्मा श्रवण धाकड़ ने भी पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए अपने संगठन की रचना और पार्टी कार्यकर्ता की चुनाव में भूमिका के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता ही पार्टी का आधार है। इस मौके स्वागत भाषण मंडल अध्यक्ष हरिसिंह यादव ने दिया। संचालन वीरेद्र  धाकड़ आभार पूर्व मंडल अध्यक्ष मोतीलाल प्रजापति ने माना। मंच में अशोक रघुवशी, संतोष धाकड़ आदि मौजूद थे। कार्यक्रम में महेश दुबे, सुशील दहीफले, निरपत धाकड़ सहित कई पार्टी के नेता मौजूद थे।

Post a Comment

0 Comments