भोपाल में 24 जुलाई से 10 दिन के लिए लॉक डाउन, मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर दी जानकारी

CLICK -  

भोपाल। (प्रदेश केसरी) मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार ने राजधानी भोपाल में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए 24 जुलाई 2020 से 10 दिनों तक के लिए लॉक डाउन की घोषणा की है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने ट्वीट में लिखा कि नागरिकों के हित को देखते हुए हमने 24 जुलाई रात 8 बजे से 10 दिन तक लॉक डाउन करने का निर्णय लिया है। इस दौरान फल-सब्जी, दवाई, दूध सहित आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति निर्बाध जारी रहेगी। वही मंगलवार को राजधानी भोपाल के कुछ कोरोना संक्रमित क्षेत्रों में पहले से ही पाँच दिनों के लिए पूर्ण लॉक डाउन किया गया है और लोगों के आने जाने पर प्रतिबंध लगाकर उनसे घर से न निकलने के निर्देश दिए गए है। मुख्यमंत्री ने नागरिकों से अनुरोध किया कि इस दौरान सभी नियमों का पालन करें और सावधानी बरतें। प्रदेश की राजधानी भोपाल में पिछले दो सप्ताह से लगातार कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ रही है। जिसे देखते हुए 24 जुलाई से 10 दिनों तक लॉक डाउन की लगाने की घोषणा की गई है। भोपाल में बुधवार 22 तारीख को 157 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज पाए गए और दो कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है। अब तक 4669 मरीज प्रदेश की राजधानी भोपाल में मिले है। कोरोना संक्रमित 57 लोगों की मौत अभी तक भोपाल में हो चुकी है और अभी भी 1330 एक्टिव केस भोपाल में है जबकि 3195 कोरोना संक्रमित मरीज स्वस्थ होकर अपने घरों को जा चुके है।
प्रदेश में बुधवार को सबसे अधिक 157 कोरोन संक्रमित केस भोपाल में मिले है जबकि इंदौर में 114 कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान हुई है। इसके अलावा ग्वालियर में 43, उज्जैन में 27, जबलपुर में 24, खरगौन और विदिशा में 35, टीकमगढ़ और रायसेन में 25, सागर में 13, देवास और धार में 14, श्योपुर में 18, छतरपुर और रतलाम और बढ़वानी में 15, मंदसौर में 13 है इसके अलावा प्रदेश के अन्य जिलों में कोरोना संक्रमितों की संख्या  एक अंक में है। प्रदेश के 34 जिले कोरोना संक्रमण की चपेट में है। प्रदेश सरकार ने 1 जुलाई से 15 जुलाई तक किल कोरोना अभियान भी चलाया था जिसमें स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं ने घर-घर जाकर लोगों के स्वास्थ्य की जाँच की थी। 

Post a Comment

0 Comments