अधिकारी अपनी जिम्मेदारी के साथ समर्पण भाव से जनता की सेवा करें- मंत्री श्री सिसोदिया

दौरे पर आए कैबिनेट मंत्री ने की विभिन्न विभागीय योजना की समीक्षा

CLICK -  

गुना। कैबिनेट मंत्री महेंद्र सिसोदिया ने जिले के समस्त कार्यालय प्रमुखों से कहा है कि वह अपनी जिम्मेदारी का निर्वाहन समर्पण भाव से जनता की सेवा करें। उन्होंने यह बात गुरुवार को जिला कार्यालय में आयोजित विभिन्न विभागों की समीक्षा बैठक में कही। इस अवसर पर गुना विधायक गोपीलाल जाटव, कलेक्टर एस.विश्वनाथन, एसपी तरूण नायक, वन संरक्षक बीके पालीवाल, जिपं सीईओ निलेश परीख सहित विभिन्न विभागों के कार्यालय प्रमुख मौजूद रहे।
मंत्री श्री सिसोदिया ने समीक्षा के दौरान जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया कि स्कूल एवं ईजीएस केन्द्रों की छतें वर्षा में टपकें नहीं। इस हेतु आवश्यक मरम्मत कराएं एवं उसकी समीक्षा भी करें। इसके साथ ही उन्होंंने कहा कि जिले में 3 हाईस्कूल एवं एक हायर सेकण्डरी स्कूल के लिए प्रयासरत हैं। इसे शीघ्र स्वींकृत कराएंगे। समीक्षा के दौरान उन्होंने इसी सत्र से बमोरी में महाविद्यालय प्रारंभ करने के निर्देश भी दिए।
विद्युत विभाग की समीक्षा के दौरान उन्होंने वर्षा और आंधी के कारण क्षतिग्रस्ता खम्बे, विद्युत तारों और ट्रांसफार्मरों को शीघ्र मरम्मत कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि नागरिकों को विद्युत प्रदाय निर्बाध हो। उन्होंने विद्युत उपभोक्ताओं को बढ़े हुए बिलों की शिकायतों का निराकरण करने के निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा कि उपभोक्ताओं को अनावश्यक बढ़े हुए बिल नहीं मिले, विद्युत विभाग सुनिश्चित करे।
उन्होंने वन विभाग की समीक्षा के दौरान वनाधिकार अधिनियम अंतर्गत पूर्व में निरस्त दावों की समीक्षा की तथा शासन की मंशानुसार समय सीमा में कार्य सुनिश्चित करने निर्देशित किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि वन विभाग क्षेत्र में किसी के विरूद्ध कोई प्रकरण हो तो उनके विरूद्ध नियमानुसार कार्रवाई करें, मारपीट नहीं करें। मारपीट करने का अधिकार किसी को नहीं है।
जल संसाधन विभाग की समीक्षा के दौरान उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा गोपीकृष्ण सागर से ग्रामीण अंचलों में पेयजल प्रदाय हेतु 400 करोड़ की परियोजना की स्वीाकृति दी गयी है। इससे बमोरी क्षेत्र के 230 ग्रामों को फायदा मिलेगा और ग्रामीणों के घर तक नल के माध्य।म से पीने का पानी पहुंचेगा। इसी प्रकार 1200 करोड़ रुपए की लागत से अशोकनगर-चंदेरी परियोजना की मंजूरी भी मुख्यमंत्री द्वारा दी गयी है, से जिले के शेष विभिन्न ग्रामों के नागरिकों को नलजल के माध्यम से पानी प्राप्त होगा। उन्होंने गुना जिले को इस महती परियोजना की स्वीकृति के लिए सरकार को धन्य वाद भी दिया।
बैठक में मंत्री श्री सिसोदिया द्वारा जिले में अवैध शराब की बिक्री पर कड़ाई से रोक लगाने आबकारी विभाग को, संबल योजना के हितग्राहियों को लाभांवित करने श्रम विभाग को, विकास के कार्यो की जानकारी संबंधित जनप्रतिनिधियों को देने तथा टेण्डर लेकर कार्य नहीं करने वाले ठेकेदारों को नोटिस देने समस्त निर्माण विभागों को, कोरोना काल में प्रदेश सरकार और केन्द्र सरकार की योजनाएं जन-जन तक पहुंचाने और संबंधित हितग्राहियों को लाभान्वित करने समस्त कार्यालय प्रमुखों को, उचित मूल्य दुकान स्तर पर बनी बिजलेन्स समितियों को सक्रिय करने, हितग्राहियों को राशन मिल रहा है या नहीं कि जानकारी लेने और समिति की बैठकें समय पर बुलाने के निर्देश जिला आपूर्ति अधिकारी को दिए। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली अंतर्गत संचालित समस्त उचित मूल्य की दुकानों के जिले में खुलने की एक ही तिथि निर्धारित हों, उस दिन जिले की समस्त उचित मूल्य की दुकानें खुलें ताकि हितग्राही आए तो उसे राशन मिले।
उन्होंने खनिज विभाग की समीक्षा के दौरान निर्देशित किया कि जिले में रेत के अवैध उत्खनन, परिवहन एवं भण्डारण में लगे लोगों और वाहनों के विरूद्ध निरंतर कार्रवाई चले। यह भी सुनिश्चित किया जाए कि फर्जी कट्टे का उपयोग कर रॉयल्टी की चोरी नही हो और न ही शासन को राजस्व की हानि हो। इस अवसर पर कलेक्टर श्री विश्वनाथन ने बताया कि जिले में रेत के अवैध उत्खनन एवं परिवहन में लगे 43 वाहन जब्त किए गए हैं। उन्होंने बताया कि डम्पर के पकड़े जाने पर 5 लाख और ट्रेक्टर-ट्राली के पकड़े जाने पर 2 लाख रूपये के जुर्मान का नियमों का प्रावधान है। इसके साथ ही उन्होंने जिले में शराब के अवैध धंधों में लगे कारोबारियों के विरूद्ध दल गठित कर कार्रवाई करने के निर्देश जिला आबकारी अधिकारी को दिए।

Post a Comment

0 Comments