शांति समिति की बैठक संपन्न, त्यौहारों एवं पर्वो पर धारा-144 के नियमों का पालन करने की अपील

CLICK -  

गुना। (प्रदेश केसरी) कलेक्टर एवं जिला दण्डााधिकारी कुमार पुरूषोत्तम ने जिले के नागरिकों से कहा है कि कोरोना वायरस संक्रमणकाल में सभी के सहयोग से जिला अपेक्षाकृत बेहतर स्थिति में है। धार्मिक और सांस्कृतिक महत्व् के साथ ही व्यक्ति को स्वास्थ्य की सुरक्षा भी जरूरी है। नागरिकगण कोविड-19 के मद्देनजर धारा-144 के तहत प्रभावशील प्रतिबंधात्मक आदेशों का पूरी तरह पालन करें। जिला कोरोना वायरस संक्रमण के फैलाव से सुरक्षित रहे, के लिए जनसहयोग आवश्यक है। नागरिकगण पर्व-त्यौहार शांतिपूर्णं, प्रेम एवं सौहार्द के साथ अपने-अपने घरों में ही मनाएं और आदेशों एवं निर्देशों का पालन सुनिश्चित करें। उन्होंने यह बात जिला कार्यालय में आयोजित शांति समिति की बैठक में कही। उन्होंने आयोजित बैठक की अध्यक्षता की।
इस अवसर पर उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के रोगियों के बढऩे की स्थिति में समस्याएं बढेंगी और संसाधनों की कमी पड़ेगी। इसके साथ ही आर्थिक गतिविधियां भी प्रभावित होंगी। आर्थिक गतिविधियां चलती रहें और स्वास्थ्य की दृष्टि से लोग भी सुरक्षित रहें, के लिए संयम महत्वपूर्णं है। संयम नही बरता तो समस्या और परेशानियां बढ जाएंगी। उन्होंने कहा कि त्यौैहारों एवं पर्वो पर परिवार का एक या दो सदस्य ही खरीददारी करने जाये तथा सभी खरीददारियां एक ही बार में करें ताकि उन्हें बार-बार बाजार नही जाना पड़े। घर से बाहर निकलते समय सोशल डिस्टेंसिंग का पालन, चेहरे को मास्क से ढंकना एवं हाथ सेनेटाइज करना सभीजन सुनिश्चित करें।
इस अवसर पर उन्होनिे गुना नगर में सूकरों की बढ़ती संख्या  पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि इनके कारण बीमारियां और महामारियां फैलती हैं। उन्होंने सूकर (सुअर) पालकों से कहा कि वे अपने-अपने सूकरों को अपने बाड़े में ही रखें। जिला प्रशासन इस संबंध में कड़ी कार्रवाई करने जा रही है। आयोजित बैठक में नगर में साफ-सफाई एवं पेयजल व्यवस्था हेतु सीएमओ गुना एवं विद्युत प्रदाय व्यवस्था निर्बाध रखने विद्युत वितरण कंपनी को दिए। बैठक में कार्यपालन यंत्री विद्युत वितरण कंपनी की अनुपस्थिति के कारण कलेक्टर ने अप्रसन्नता व्यक्त की तथा कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सिंह ने कहा कि धारा-144 के तहत जारी प्रतिबंधात्मकक आदेशों के अनुसार झांकियां, जुलूस नहीं निकलेंगे और सार्वजनिक कार्यक्रम भी आयोजित नहीं होंगे। सभीजन निर्देशों का पालन करें। बैठक के प्रारंभ में डिप्टी कलेक्टर सोजन जैन द्वारा अगस्त एवं सितंबर माह में इदुज्जुपहा, रक्षाबंधन, जन्माष्टवमी, गणेश चतुर्थी, डोल ग्यारस, अनंत चर्तुदशी, भुजरिया, पर्यूषण पर्व, मोहर्रम एवं आदिवासी दिवस के मद्देनजर आयोजित शांति समिति की बैठक के उद्देश्यक बताए तथा कोविड-19 के मद्देनजर जिले में धारा-144 के तहत लगे प्रतिबंधों की जानकारियां समिति सदस्यों को दी गई। इस अवसर पर पूर्व विधायक पन्नालाल शाक्यि, जिपं सीईओ निलेश परीख सहित जिला शांति समिति के शासकीय-अशासकीय सदस्य मौजूद रहे।

Post a Comment

0 Comments