देवास में अतिक्रमण हटाने गई टीम के सामने महिला ने आग लगाई ,सियासत हुई तेज

CLICK -  

देवास। (प्रदेश केसरी) मध्यप्रदेश के देवास जिले में अतिक्रमण हटाने गई टीम और अतिक्रमण करने वालों के बीच विवाद हो गया। सरकारी अमले ने जब फसल को जेसीबी से रौंदा डाला तब महिला आक्रोशित हो गई और उसने अपने ऊपर कोई ज्वलनशील पदार्थ डालकर आग लगा ली। महिला मामूली तौर पर झुलस गई। मिली जानकारी अनुसार सतवास थाना क्षेत्र के अतवास गांव में सरकारी अमला सरकारी जमीन से अतिक्रमण हटाने सरकारी अमला गया था । इस सरकारी अमले पर कुछ लोगों ने पथराव भी कर दिया। जब जेसीबी मशीन को फसल पर चलाया गया तो सावरा नामक महिला सामने आई और विरोध करते हुए उसने ज्वलनशील पदार्थ अपने ऊपर डालकर आग लगा ली। इससे वहां हड़कंप मच गया। महिला मामूली तौर पर झुलसी है। इस घटना का वीडियो वायरल होते ही कांग्रेस ने सरकार पर हमला बोला है।
पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने घटनाक्रम का वीडियो साझा करते हुए ट्वीट किया, "बेहद दुखद तस्वीर। जो खुद को मामा कहलवाते हैं, उनके राज में आज एक बहन खुद को आग के हवाले कर रही है। उन्होंने आगे लिखा है, "मैं सरकार से मांग करता हूं कि पूरे मामले की जांच करवाकर दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई हो। घायल महिला का संपूर्ण इलाज सरकार करवाए, पीड़ित परिवार की हर संभव मदद की जाए।
कलेक्टर चंद्रमौली शुक्ला के अनुसार जिले की सतवास तहसील के ग्राम अतवास में विगत दिवस रास्ते के विवाद के लिए में निराकरण के लिए गई राजस्व एवं पुलिस विभाग की टीम पर दर्जन भर लोगों ने हमला किया था। उन्होंने बताया कि दोनों पक्षों के आवागमन के लिए रास्ते की समस्या का हल निकालने के लिए आवेदन सतवास तहसील न्यायालय में आया था, जिस पर न्यायालय में आपसी सहमति बनी तथा रास्ते को सुचारू बनाने का आदेश न्यायालय द्वारा दिया गया था।
उन्होंने बताया कि दिनांक 28 जुलाई 2020 को पुलिस बल, राजस्व दल एवं टीआई सतवास के द्वारा उभयपक्ष की आपसी सहमति से रास्ता खोलने के लिए गए थे। इसी दौरान मौके पर मौजूद शासकीय टीम पर रमजान व उनके पारिवारिक सदस्य अनिशा, छोटे खां, शरीफ खां, शेख मोहम्मद, हबीब व हमीद के द्वारा राजस्व दल पर पत्थरबाजी की गई। साथ ही मारपीट भी की गई। आरोपियों पर प्रकरण दर्ज कर लिया गया है।

Post a Comment

0 Comments