चांचौड़ा अंतर्गत चिन्हित क्षेत्र कंटेनमेंट जोन घोषित

उल्‍लंघन पर होगी धारा 188 के अंतर्गत कार्रवाई

गुना / कलेक्‍टर एवं जिला दण्‍डाधिकारी एस.विश्‍वनाथन ने कहा है कि तहसील चाचौड़ा के क्षेत्रातर्गत कोरोना महामारी से पीडित व्यक्ति की रिपोर्ट पोजिटिव आई है। संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए एवं कान्टेक्ट ट्रेसिंग किया जाना अत्यावश्यक है। व्यक्ति के निवास स्थल के आस-पास संकमण से महामारी फैलने का अत्यधिक सम्भावना है। इसे दृष्टिगत रखते हुए उन्‍होंने भारत सरकार गृह विभाग के आदेश के परिप्रेक्ष्य में कंटेनमेंट जोन बनाना आवश्यक है। उन्‍होंने दण्ड प्रकिया संहिता 1973 की धारा 144 के तहत प्रदत्त शक्तियों के अध्यधीन रहते हुये तहसील चांचौड़ा क्षेत्र अंतर्गत पूरब दिशा में रिपुदमनसिंह सोलंकी (मकान नंबर 251) से पश्चिम दिशा में अभिषेक जैन (मकान नंबर 255) तक क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। जारी आदेश में उन्‍होंने आगामी आदेश तक घोषित कंटेनमेंट क्षेत्र के नागरिकों को घर से बाहर निकलना पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। आवश्यक सेवाओं के लिए पास जारी किए जाएंगे। पास धारकों को कंटेनमेंट जोन में आवश्यक सुविधा देने की व्यवस्था होगी। दूध, सब्जी, किराना आदि निर्धारित दर पर देने के इच्छुक प्रतिष्ठान तहसीलदार चांचौड़ा विजयपाल चौहान (मोबाईल नंबर 9685357708) को अनुमति पत्र जारी करने हेतु आवेदन कर सकेगें। नगर पालिका/ग्राम पंचायत स्वास्थ्य, विधुत विभाग, राजस्व, पुलिस विभाग के कर्मचारियों/ अधिकारियो पर उक्त आदेश लागू नहीं होगा।
जारी आदेश तहसील चांचौड़ा क्षेत्र के कंटेनमेंट जोन अथवा इस जोन में आने-जाने वाले सभी व्यक्तियों पर लागू होगा। जारी आदेश दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 (2) के अधीन एकपक्षीय रूप से पारित किया गया है। जारी आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति/संगठन पर आपदा प्रबंधन अधिनियम - 2005 एवं भारतीय दण्ड संहिता 1861 की धारा 188 के अंतर्गत नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी। जारी आदेश कंटेनमेंट जोन की निर्दिष्ट सीमा क्षेत्रों में आगामी आदेश तक लागू रहेगा।


ऐंदवाडा में संपूर्णं लॉकडाउन समाप्‍त

गुना / ग्राम ऐंदवाड़ा तहसील बमौरी जिला गुना में कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति पाए जाने पर संक्रमण के विस्तार को रोकने हेतु कलेक्‍टर एवं जिला दण्‍डाधिकारी एस.विश्‍वनाथन द्वारा दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के तहत पूर्ण लॉक डाउन किया गया था। उक्त कंटेनमेंट क्षेत्र में व्यक्तियों का परीक्षण किया गया। जिसमें कोई व्यक्ति पॉजिटिव नहीं पाया गया है।
इसे देखते हुए कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री विश्वनाथन द्वारा उक्त ग्रामीण क्षेत्र में संक्रमण की स्थिति नही होने से जिला कार्यालय द्वारा जारी पूर्व में आदेश को प्रभाव शून्य किया गया है।

Post a Comment

0 Comments