गुना में पुलिस गार्ड को चकमा दे आइसोलेशन वार्ड से भागा कोरोना संक्रमित कैदी

पुलिस विभाग में हड़कंप, अब ढूंढने में जुटी टीमें 

CLICK -  

गुना। (प्रदेश केसरी) जिला अस्पताल के कोविड-19 आइसोलेशन वार्ड में भर्ती एक कोरोना संक्रमित कैदी के भागने से हड़कंप मचा हुआ है। उक्त कैदी 28-29 अगस्त की दरम्यानी रात पुलिस को चकमा देकर भागने में आइसोलेशन वार्ड से सफल रहा। ऐसे में सुरक्षा में तैनात पुलिस गार्ड की गंभीर लापरवाही भी उजागर हुई है। वहीं संक्रमित कैदी के अस्पताल से भागने से संक्रमण का खतरा भी उत्पन्न हो गया है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार नाबालिग के अपहरण के मामले में जिला जेल में बंदी उक्त कैदी को 27 अगस्त को कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया था। इसकी सुरक्षा के लिये पुलिस लाइन से पुलिस गार्ड भी तैनात था, इस गार्ड में तीन पुलिसकर्मियों को शामिल होना बताया जा रहा है जिन्हें कैदी की सुरक्षा की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। लेकिन 28-29 अगस्त की दरमियानी रात कोरोना संक्रमित कैदी ने उक्त सुरक्षा भागने में सफल रहा। जब इस आशय की जानकारी सामने आई तो पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया। अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड से कैदी का भागना पुलिस को गंभीर लापरवाही को दर्शाता है। अब पुलिस की टीमें कैदी को पकड़ने व उसकी तलाश में जुट गई है। वही कैदी की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों पर भी अब कार्रवाई की तलवार लटक रही है।

संक्रमण का बढ़ा खतरा

अस्पताल के आईसोलेशन वार्ड से भागने वाले कैदी से अब कोरोना संक्रमण का खतरा भी बढ़ गया है। उक्त कैदी कोरोना संक्रमित है। ऐसे में वह अब जिसके भी सम्पर्क में आयेगा उसे संक्रमित होने का खतरा रहेगा।
लोगो का मानना है कि ऐसे लोगों की पुलिस को फोटो सहित उसकी पहचान उजागर करनी चाहिए। ताकि लोग उससे दूरी बना सके और कहीं नजर आने पर उसकी तत्काल पुलिस को सूचना दी जा सके।

Post a Comment

0 Comments