मप्र के जांबाज सैनिक मनीष कारपेंटर का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार आज

जम्मू-कश्मीर के बारामूला में आतंकी हमले में मप्र के राजगढ़ जिले के खुजनेर के जांबाज मनीष कारपेंटर रविवार को शहीद हो गए थे

CLICK -  

राजगढ़। (प्रदेश केसरी) जम्मू-कश्मीर के बारामूला में आतंकी हमले में शहीद हुये मनीष कारपेंटर कश्मीर में बतौर सैनिक के रूप में तैनात थे। शुक्रवार को वह आतंकियों द्वारा जमीन में लगाए गए बम के शिकार हो गए थे। उनका पैर बम पर रखने से चार जवान घायल हुए थे, जिन्हें श्रीनगर के अस्पताल में भर्ती कराया था। जहा रविवार को मनीष ने दम तोड़ दिया था। शहीद मनीष विश्वकर्मा की पार्थिव देह बुधवार सुबह लगभग नो बजे खुजनेर पहुंचेगा। प्रशासन के अनुसार बुधबार सुबह भोपाल से पार्थिव देह लेकर वाहनों से रवाना होगी,जहां से खुजनेर में पार्थिव देह को उनके घर पर लाया जाएगा। यहां सेना और पुलिस के जवान उन्हें सलामी देंगे। इसके बाद नगर में उनकी अंतिम यात्रा निकलेगी।

दोपहर 12 बजे तक मुक्तिधाम पहुंचेगी अंतिम यात्रा

निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक सेना के विशेष विमान से शहीद का शव मंगलवार दोपहर लगभग 3 बजे भोपाल लाया गया। बुधवार सुबह 6 बजे भोपाल सड़क मार्ग से नरसिंहगढ़ होते हुए बोड़ा पचोर मार्ग से सुबह शहीद के घर खुजनेर पहुंचने की संभावना है। लगभग एक घंटे अंतिम विदाई के रीति रिवाज के बाद अंतिम यात्रा प्रारंभ होगी।

कदम-कदम पर होगी पुष्पवर्षा, गली - गली में गूंजेंगे शहीद के जयकारे

शहीद मनीष के जाने का गम तो सभी को है, लेकिन क्षेत्र सहित जिलेभर के लोग मनीष की अंतिम यात्रा को ऐतिहासिक बनाने में जुटा हुआ है। सब अपने अपने स्तर से श्रद्धांजलि दे रहे हैं। बुधवार को निकलने वाली अंतिम यात्रा को लेकर भी बड़े स्तर पर मंगलवार को प्रशासनिक अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों ने तैयारियों की स्थिति देखी। दीनदयाल चौराहे से मुक्तिधाम तक का प्रशासन द्वारा मार्ग का मुआयना किया गया । मुक्तिधाम में अंत्येष्टि के लिए व्यवस्था की तैयारियां की गई साथ ही आमजन भी शोकसभा को सुन सकें इसलिए प्रशासन द्वारा लाउडस्पीकर लगवाने का निर्णय लिया गया।

Post a Comment

0 Comments