वाट्सअप पर प्राप्‍त शिकायत के आधार पर बंधक श्रमिक हुआ मुक्‍त

चांचौड़ा क्षेत्र के कोटरा का बंसीलाल 43 हजार रूपये के कर्ज के बदले 3 साल से कर र‍हा था कार्य

Click -  
गुना। (प्रदेश केसरी) कलेक्‍टर कुमार पुरूषोत्‍तम द्वारा वाट्सअप पर बंधक श्रमिक की प्राप्‍त गुप्‍त सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए 3 साल से बंधक श्रमिक के रूप में कार्यरत बंसीलाल विश्‍वकर्मा को न केवल बंधक श्रमिक करा दिया जाकर बंधक श्रमिक को विमुक्ति प्रमाण-पत्र जारी करवा कर उसके परिवार को ग्राम पिपल्‍या नजदीक कोटरा के सुर्पुद करा दिया है। इसके साथ ही कर्ज के एवज में बंधक श्रमिक बनाने वाले परेवा ग्राम के चैन सिंह मीणा पिता भंवरलाल मीणा के विरूद्ध प्रकरण भी दर्ज करा लिया गया है। 05 अगस्‍त 2020 को बंसीलाल को चैन सिंह के बंधन से मुक्त करा कर उसे उसके घर वापस भेज दिया गया है।बंसीलाल विश्वकर्मा ने नियोजक से कुल 43000 रूपये समय-समय पर उधार कर्ज के रूप में लिए थे। इसके एवज में बंसीलाल से चैन सिंह मीणा द्वारा 30000 रूपये सालाना मजदूरी पर 2 वर्षों तक कार्य कराया गया तथा इस वर्ष 45000 रूपये सालाना मजदूरी पर तीन माह 05 दिनों तक कार्य कराया गया। इस संबंध में बंसीलाल के बताए अनुसार उसके द्वारा चैन सिंह मीणा को 43000 रूपये के कर्ज के एवज में 167000 रूपये मजदूरी कर जमा किया जा चुका है। अभी भी चैन सिंह द्वारा 25,000 रूपये लेना कहा जा रहा था।
उल्‍लेखनीय है कि कलेक्‍टर श्री पुरूषोत्‍तम द्वारा व्‍हाट्सअप पर प्राप्‍त शिकायत के आधार पर जांच खण्‍ड स्‍तरीय बंधक श्रम सतर्कता समिति के समक्ष कराई गई थी।

Post a Comment

0 Comments