कोयम्बटूर चिड़िया घर में रसेल वाइपर सांप ने दिया 35 बच्चों को जन्म

जहरीला सांप माना जाता है रसेल वाइपर

CLICK -  

कोयम्बटूर। (प्रदेश केसरी) कोयम्बटूर चिड़िया घर में रसेल वाइपर सांप ने 35 बच्चों को जन्म दिया है। अन्य सांपों से अलग रसेल वाइपर एक साथ 60 बच्चों को जन्म दे सकता है। रसेल वाइपर सांप सबसे जहरीला जीव माना जाता है।

रसेल वाइपर सांप ने 35 बच्चों को दिया जन्म

चिड़िया घर के निदेशक सेंथिल नाथन ने बड़ी तादाद में सांपों के जन्म की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि हाल ही में चिड़िया घर में यह मामला देखा गया है। इस सांप की खासियत होती है कि यह एक साथ 40-60 सांपों को जन्म दे सकता है। सभी सांप के बच्चे स्वस्थ हैं मगर उनकी देखभाल करना संभव नहीं है। इसलिए सभी सांपों को वन विभाग के हवाले कर दिया जाएगा।

हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि जंगल में सांप का जीवत बचे रहना तस्करों की वजह से मुश्किल होता है। श्री नाथन ने बताया कि कुछ साल पहले एक अन्य सांप भी करीब 60 बच्चों को जन्म दे चुका है। इससे पहले जून में कोयम्बटूर के बाहरी इलाके में एक घर से रसेल वाइपर सांप का निजी संपेरा ने रेस्क्यू किया था। दरअसल कोयम्बटूर के बाहरी इलाके में रहनेवाला शख्स उस वक्त हैरान रह गया जब उसने अपने बाथरूम में एक बड़े सांप को देखा। बाद में कोविल मेडू निवासी शख्स ने एक निजी संपेरे टीम की मदद मांगी।

जहरीला सांप माना जाता है रसेल वाइपर

टीम ने सांप को रसेल के वाइपर के रूप में पहचान की। रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान सांप ने 35 बच्चों को जन्म दिया बाद में सांप को शाम के वक्त एनीकट्टी वन रेंज में छोड़ दिया गया। रसेल वाइपर को भारत में 'कोरिवाला' के नाम से भी जाना जाता है। विशेषज्ञों के मुताबिक ये सांप तेजी से हमला करने में सक्षम होता है।

Post a Comment

0 Comments