कोरोना मरीजों के लिए बनाए गए अस्पताल (होटल) में लगी भीषण आग, दस की मौत

राज्य सराकर ने परिजनों को 50-50 लाख देने की घोषणा की

  CLICK -  

विजयवाड़ा। (प्रदेश केसरी) आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा में कोरोना मरीजों के लिए अस्पताल बनाए गए एक होटल में भीषण आग लगने से दस कोरोना मरीजों की मौत हो गई और दर्जन भर से ज्यादा लोग घायल हो गए। इसके अलावा 30 लोगों को सुरक्षित बचा लिया गया है। कोरोना हॉस्पिटल बनाए गए इस होटल में घटना के वक्त चालीस मरीज और मेडिकल के स्टाफ के दस कर्मचारी मौजूद थे। वहीं राज्य सरकार ने हॉस्पिटल में जान गंवाने वाले मरीजों के परिजनों को पचास-पचास लाख रुपए की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है।
कृष्णा जिले के कलेक्टर मोहम्मद इम्तियाज ने बताया कि आग रविवार 9 अगस्त 2020 को सुबह करीब पांच बजे लगी। हॉस्पिटल में मरीजों का इलाज चल रहा था। पूरी इमारत को खाली कराया गया है। उन्होंने कहा कि शुरुआती रिपोर्ट के मुताबिक आग शॉट सर्किट की वजह से लगी मगर हमें जांच कर इसका पता लगाएंगे।
आग लगने की घटना पर राज्य के मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी ने दु:ख और शोक संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने संबंधित अधिकारियों से घटना की जानकारी ली है। आंध्र प्रदेश सीएम ऑफिस ने कहा कि सीएम ने अधिकारियों को घायलों को आसपास के हॉस्पिटल में भर्ती का कराने का भी निर्देश दिया है।

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को दुर्घटना की जांच करने का भी निर्देश दिया है। बता दें कि आग उस होटल में लगी जिसे लीज पर लिया गया था और कोरोना मरीजों के इलाज के लिए इसे एक निजी हॉस्पिटल द्वारा संचालित किया जा रहा था।

उल्लेखनीय है कि इससे पहले गुरुवार को गुजरात के अहमदाबाद में कोरोना मरीजों के एक हॉस्पिटल में आग लगने से आठ मरीजों की मौत गई थी। मृतकों में पांच पुरुष और तीन महिलाएं शामिल थीं। सभी मृतक कोरोना संक्रमित थे और उनका आईसीयू में इलाज चल रहा था। इस दुर्घटना पर प्रधानमंत्री मोदी ने दुख व्यक्त करते हुए मृतकों के परिजन को 2-2 लाख रुपए मदद की घोषणा की। इसके अलावा घायलों को 50-50 हजार रुपए देने की बात कही गई।

प्रधानमंत्री ने जताया दुख

Post a Comment

0 Comments