नाबालिग अपहृता को आरोपी के चंगुल से कराया मुक्त

आरोपी द्वारा नाबालिग का अपहरण कर उसके साथ दुष्कर्म की घटना को दिया अंजाम

CLICK -  

गुना। (प्रदेश केसरी) पांच दिन पूर्व बुधवार को घटित घटना पर फरियादी पिता द्वारा, घर पर इलाज कराने का बोलकर दिनांक 10 अगस्त 2020 को घर से निकली अपनी 17 वर्षीय नाबालिग पुत्री के बापस घर नहीं लौटने की रिपोर्ट थाना बजरंगगढ़ पर की गई थी। जिस पर से थाना बजरंगगढ़ में अज्ञात आरोपी पर अपहरण का मामला दर्ज कर नाबालिग अपहृता की खोजबीन शुरू की गई। विवेचना के दौरान पुलिस को उक्त बालिका के इंदौर में होने की जानकारी लगने पर बजरंगढ़ पुलिस द्वारा गत दिवस इंदौर से नाबालिग अपहृता को खोज निकाला और उसे आरोपी के चंगुल से आजाद कराकर प्रकरण के आरोपी बुन्देल सिंह पुत्र रामेश माली निवासी ग्राम बजरंगढ़ को गिरफ्तार कर लिया गया। अपहृता द्वारा पुलिस को बताया कि बुन्देल सिंह माली मेरा इलाज इंदौर में कराने के वहाने मुझे बहला-फुसलाकर अपने साथ इंदौर ले आया और जहां जिसने मुझे एक किराये के कमरे में रखा और उसने मेरी मर्जी के बिना जवरदस्ती मेरे साथ बुरा काम भी किया। जिससे पुलिस द्वारा प्रकरण में धारा 366, 376 भादवि एवं 5/6 पोक्सो एक्ट इजाफा की गई। पुलिस द्वारा गिरफ्तार आरोपी बुन्देल सिंह माली को आज माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया है।
पुलिस की इस सराहनीय कार्यवाही में थाना प्रभारी बजरंगढ़ एसआई राकेश शर्मा, प्रधान आरक्षक उदयपाल सिंह तोमर, आरक्षक रणवीर सिंह गौर, आरक्षक पुष्पेन्द्र जाट एवं महिला आरक्षक ज्योति रघुवंशी की महत्वपूर्ण भूमिका रही।



Post a Comment

0 Comments