महाकाल मंदिर का शिखर होगा स्वर्ण जड़ित, तिरुपति और स्वर्ण मंदिर की तरह दमकेगा शिखर

शिखर और गर्भगृह का काम पूरा होने में लग सकते हैं आठ वर्ष

CLICK -  

उज्जैन। (प्रदेश केसरी) उज्जैन स्थित विश्व प्रसिद्ध महाकाल मंदिर भी अब सोने से चमकेगा। देश के 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक इस मंदिर के शिखर और गर्भग्रह पर करीब ढाई सौ किलो सोना लगाया जाएगा। इसके साथ ही महाकाल मंदिर भी अब सोमनाथ, तिरुपति बालाजी और शिर्डी के साई मंदिर की श्रेणी में शामिल हो जाएगा। विश्व प्रसिद्ध महाकालेश्वर मंदिर भी अब स्वर्ण मंदिर की तरह चमकेगा इसके शिखर और गर्भग्रह पर सोना मढ़ा जायेगा।
मंदिर के मुख्य पुजारी रमन त्रिवेदी के अनुसार उज्जैन के एक व्यापारी ने सवा किलो सोना और मुंबई के एक हीरा व्यापारी ने महाकाल मंदिर के शिखर और गर्भ ग्रह को सोने से भरने का बीड़ा उठाया है। मुंबई के व्यापारी ने इससे पहले भी सोमनाथ मंदिर, बद्रीनाथ मंदिर में इसी तरह से सोने का दान किया था और अब व्यापारी की मंशा है कि उज्जैन का प्रसिद्ध महाकालेश्वर मंदिर भी स्वर्ण जड़ित हो जाए, इसके लिए रूपरेखा बना ली गई है।

आंकलन रिपोर्ट तैयार 

मंदिर में कारीगरों को भेजकर आंकलन रिपोर्ट भी तैयार कर लिया गया है इसमें बताया गया है कि इस पूरे काम में करीब ढाई सौ किलो सोना लग सकता है इसमें से 200 किलो शिखर पर और 50 किलो गर्भ गृह में लगाया जाएगा और जिनके स्वर्णकार आरोहण संकल्प समिति ने व्यापारियों से बात करने के बाद अब महाकाल मंदिर समिति को यह प्रस्ताव जल्दी भेजने की बात कही है। उसके बाद उज्जैन कलेक्टर की ओर से अंतिम मुहर लगते ही शिखरों पर सोना लगाने का काम शुरू हो जाएगा।

110 स्वर्ण शिखर

 इससे पहले भी महाकाल मंदिर के 110 स्वर्ण शिखर स्थापित हो चुके हैं। अब देखना होगा की महाकाल मंदिर का पूरा शिखर और गर्भ ग्रह कब तक स्वर्ण मंदिर जैसा हो पाते हैं। देशभर के बड़े मंदिर सोमनाथ, तिरुपति बालाजी और शिरडी के मंदिर की तरह अब उज्जैन का महाकालेश्वर मंदिर भी सोने से जगमगाएगा।

इस काम को संपन्न करने 2028 का लक्ष्य

यह काम पूरा होने में लगभग 8 साल लग सकते हैं, 2028 से पहले महाकाल मंदिर का शिखर और गर्भ ग्रह करीब 250 किलो सोना से जड़ित हो जाएगा हालांकि इससे पहले भी महाकाल मंदिर के शिखर को स्वर्ण जड़ित किया गया था जिसमें कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी शिखर के लिए सोना दान किया था।

Post a Comment

0 Comments