बाबरी विध्वंस मामले में सभी 32 आरोपी बरी

नई दिल्ली। (प्रदेश केसरी) बाबरी विध्वंस मामले में सीबीआई की विशेष न्यायालय द्वारा आज बुधवार को फैसला सुनाया गया है। भाजपा के वरिष्ठ नेता एलके आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती समेत सभी 32 आरोपी बरी कर दिए गए हैं। न्यायाधीश एसके यादव ने अपने फैसले की शुरुआत में कहा कि यह पूर्व नियोजित घटनाक्रम नहीं था। यानी आरोपियों ने पहले से इसकी साजिश नहीं रची। अशोक सिंघल के बारे में जज ने कहा कि उनके खिलाफ कोई सबूत नहीं है। जो तस्वीरें पेश की गईं, उन्हें साक्ष्य नहीं माना जा सकता है। लखनऊ में हुई इस सुनवाई में छब्बीस आरोपी मौजूद रहे। इस ऐतिहासिक फैसले को सीबीआई के विशेष न्यायाधीश एसके यादव ने सुनाया, जिनके कार्यकाल आज तक का है और यह उनका अंतिम फैसला है।

Post a Comment

0 Comments