पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह का निधन, प्रधानमंत्री मोदी ने दी श्रद्धांजलि

बीजेपी के वरिष्ठ नेता जसवंत सिंह अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में संभाल चुके है रक्षा, विदेश तथा वित्त मंत्रालय जैसे महत्वपूर्ण विभाग 

CLICK -  

नई दिल्ली। (प्रदेश केसरी) पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता जसवंत सिंह का रविवार को निधन हो गया है। 82 वर्षीय जसवंत सिंह पिछले 6 साल से काफी बीमार थे। बीजेपी के वरिष्ठ नेता जसवंत सिंह, अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में रक्षा, विदेश तथा वित्त मंत्रालय जैसे महत्वपूर्ण विभाग संभाल चुके हैं। जसवंत सिंह पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत अटल बिहारी वाजपेयी के काफी करीबी माने जाते थे। पूर्व सैन्य अधिकारी श्री सिंह अगस्त 2014 में अपने घर में गिरने के बाद से बीमार थे। उन्हें सेना के रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया गया था इसके बाद से उन्हें कई बार अस्पताल में भर्ती कराया गया। इस साल जून में उन्हें दोबारा अस्पताल में भर्ती कराया गया था।
दिल्ली स्थित आर्मी रिसर्च एंड रेफरल हॉस्पिटल ने बयान जारी कर बताया, 'पूर्व कैबिनेट मंत्री,  मेजर (रिटायर्ड) जसवंत सिंह का रविवार सुबह 6.55 बजे निधन हो गया। वह 25 जून को यहां भर्ती हुए थे। उनके कई अंग ठीक तरह से काम नहीं कर रहे थे इसके अलावा सेप्सिस का भी उपचार चल रहा था रविवार सुबह उनका हृदय घात से उनका निधन हो गया। उनकी कोविड रिपोर्ट नेगेटिव आई थी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जसवंत सिंह के निधन पर जताया शोक 

पीएम मोदी ने जसवंत सिंह के निधन पर ट्वीट करते हुए कहा, 'जसवंत सिंह जी ने हमारे देश की सेवा पूरी मेहनत से की, पहले एक सैनिक के रूप में और बाद में राजनीति के साथ अपने लंबे जुड़ाव के दौरान। अटल जी की सरकार के दौरान, उन्होंने महत्वपूर्ण विभागों को संभाला और वित्त, रक्षा और विदेश मामलों में एक मजबूत छाप छोड़ी. उनके निधन से दुखी हूं।'
पीएम मोदी ने कहा, जसवंत सिंह जी को राजनीति और समाज के मामलों पर उनके अनूठे दृष्टिकोण के लिए याद किया जाएगा। उन्होंने भाजपा को मजबूत बनाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया। मैं हमेशा उनके साथ हुई बातचीत को याद रखूंगा। उनके परिवार और समर्थकों के प्रति संवेदना। शांति।

जसवंत सिंह के निधन पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट किया करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी 

राजनाथ सिंह ने ट्वीट करते हुए लिखा अनुभवी भाजपा नेता और पूर्व मंत्री श्री जसवंत सिंह जी के निधन से गहरा दुख हुआ। उन्होंने रक्षा मंत्रालय के प्रभारी सहित कई क्षमताओं में देश की सेवा की। उन्होंने खुद को एक प्रभावी मंत्री और सांसद के रूप में प्रतिष्ठित किया।

2014 में सिर पर चोट लगने के बाद से थे अस्पताल में

बता दें कि 7 अगस्त 2014 को जसवंत सिंह बाथरूम में गिर गए थे और उस दौरान उनके सिर पर गंभीर चोट आ गई थी। इसके बाद उन्हें इलाज के लिए दिल्ली में सेना के अनुसंधान और रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया गया था तब से वह कोमा की स्थिति में थे।



Post a Comment

0 Comments