कमलनाथ सरकार ने छीना है जनता को कुछ नहीं दिया: वीडी शर्मा

CLICK -  

गुना। (प्रदेश केसरी) 
गुना। कमलनाथ ने गरीबों की हक की सारी योजनाएं बंद करके उनके मूंह का निबाला छीना है। जबकि 15 माह में गरीबों के लिए कुछ भी नहीं किया। इससे गरीब, बेरोजगार किसान और आम आदमी त्रस्त हो गया था। इसके बाद भी भोले बनकर कमलनाथ पूछते हैं कि मेरा कसूर क्या है।यह बात भाजपा प्रदेशाध्यक्ष बीडी शर्मा म्याना में भीड़ भरी सभा को संबोधित करते हुए कहीं। उन्होंने शिवराज सरकार की योजनाएं गिनाते हुए कहा कि कमलनाथ ने सीएम रहते संबल योजना बंद कर दी, बच्चों के लेपटॉप, विकलांगों की पेंशन बंद कर दी। श्री शर्मा ने कहा कि उनके कार्यकाल में मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में 22500 शादियां हुईं, लेकिन किसी को 51000 की राशि नहीं मिली। उन्होंने कहा कि यह प्रदेश के लोगों के साथ धोखेबाजी नहीं, बल्कि एक अपराध है। कमलनाथ,आपने जनता की गरीबी का अपमान किया है।कांग्रेस की कर्जमाफी सफेद झूठश्री शर्मा ने कहा कि 2018 में किसानों की कर्जमाफी की बात की थी, लेकिन कांग्रेस का कर्जमाफी का दावा सफेद झूठ है। जिस 6000 करोड़ की कर्जमाफी की बात कमलनाथ करते हैं, वास्तव में कांग्रेस की सरकार ने उस 6000 करोड़ से बैंकों का एनपीए चुकाया है, कर्जमाफी नहीं की। श्री शर्मा ने कहा कि कांग्रेस की सरकार ने बड़ी संख्या में कर्जमाफी के फर्जी प्रमाण पत्र जारी किए हैं। श्री शर्मा ने महू के तीन किसानों को कमलनाथ सरकार द्वारा जारी किए गए ऐसे ही प्रमाण पत्रों को प्रस्तुत किया, जिनमें किसानों ने खुद अपने कर्ज चुकाए और सरकार ने उन्हें कर्जमाफी की सूची में शामिल कर प्रमाण पत्र दे दिया। उन्होंने कहा कि प्रदेश का किसान कमलनाथ से ये पूछ रहा है कि उनके साथ ऐसा कपट, ये गद्दारी कांग्रेस की सरकार ने क्यों की?अधूरा रहा कांग्रेस का हर वादाश्री शर्मा ने कहा कि कांग्रेस ने अपने 2018 के वचन पत्र में कहा था कि हम अनाज, सब्जियों पर किसानों को बोनस देंगे, दूध पर बोनस देंगे। कांग्रेस ने कहा था हम नौजवानों को 4 हजार रुपये महीना बेरोजगारी भत्ता देंगे, व्यवसाय के लिए रियायती दरों पर कर्ज देंगे। लेकिन कमलनाथ सरकार ने अन्य वादों की तरह इस वादे को भी पूरा नहीं किया। दूसरी तरफ हमारी शिवराज सरकार ने सिर्फ 6 महीनों के कार्यकाल में लाखों स्ट्रीट वेंडर्स को 10 हजार रुपये तक का ब्याजमुक्त कर्ज उपलब्ध करा दिया है।

एक्टरों के साथ फोटो खिंचवाते रहे कमलनाथ 


प्रदेश अध्यक्ष श्री शर्मा ने कहा कि सलमान खान और जैक्लीन के साथ फोटो खिंचाने में व्यस्त रहे कमलनाथ ने आइफा अवार्ड के लिए 700 करोड़ का प्रावधान किया, लेकिन मैचिंग ग्रांट न होने की बात कहकर ढाई लाख गरीबों के लिए स्वीकृत आवास लौटा दिए। 

यह चुनाव सिसौदिया का नहीं आम जनता का है


प्रदेशाध्यक्ष बीडी शर्मा ने कहा कि यह चुनाव महेन्द्र सिंह सिसौदिया का नहीं बल्कि कमलनाथ सरकार के घमंड और गरीब जनता के अपमान के खिलाफ है, जो प्रदेश के मुख्यमंत्री को नंगा-भूखा बोलते हैं। यह गरीबों का अपमान है, इसलिए इस चुनाव में प्रत्येक बमौरी विधानसभा के मतदाता का है, और गरीबों के अपमान का बदला लेने का है। आतंक फैला दिया था कांग्रेस ने: यादव इस मौके पर सांसद केपी यादव ने कहा कि 15 माह में कांग्रेस सरकार ने आतंक फैला दिया था और हर कोई उससे त्रस्त होग गया था। इसके चलते उनके ही नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सरकार के वादा खिलाफ के चलते कांग्रेस की सरकार गिरा दी। श्री यादव ने कहा कि 15 माह में कमलनाथ सरकार का एक मात्र उद्देश्य पैसा कमाना था। उन्होंने जनता के हित में कोई काम नहीं किया। श्री यादव ने इस दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के 15 साल के कार्यकाल और 6 माह के कार्यकाल की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने जो जनहितैषी योजनाएं चलाई वह देश के लिए मिसाल है। यादव ने केन्द्र सरकार के एक साल की तारीफ करते हुए कहा कि इस एक साल में ऐतिहासिक बिल पास हुए।

Post a Comment

0 Comments