बोरखेड़ा हत्याकांड: पहले महिला की मदद के लिए रूठियाई तक साथ आया, फिर शराब पीने के बाद नियत बिगड़ी तो दुष्कर्म कर की हत्या


CLICK -

गुना। (प्रदेश केसरी) जिले के धरनावदा थानांतर्गत ग्राम बरखेड़ागिर्द निवासी एक महिला के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या के मामले में पुलिस ने चौबीस घंटे के अंदर आरोपी को गिरफ्तार कर हत्या का पर्दापाश किया है।  पुलिस के अनुसार आरोपी मुकेश बंजारा द्वारा अपनी रिश्तेदार के साथ अपने गांव बोरखेड़ागिर्द जाते समय रात्रि में सुनसान स्थान पर दुष्कृत्य कर अपने कुकृत्य को छिपाने के लिए हत्या की थी। घटना के बाद आरोपी द्वारा मृतिका के परिजनों को लगातार गुमराह कर एवं घटना से अनजान बनकर स्वयं आगे रहकर मृतिका की तलाश कराने का नाटक कर रहा था। लेकिन जब अंतिम समय में मृतिका के साथ ही आरोपी के होने की जानकारी सामने आने पर आरोपी गांव से फरार से हो गया था। जिसे राजस्थान जाने की फिराक में फतेहगढ़ तिराहे पर खड़े होने के दौरान पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। हत्यारोपी आवारा किस्म का होकर बगैर शादीशुदा है। दरअसल गत दिवस प्रात: थाना धरनावदा अंतर्गत ग्राम बोरखेड़ा गिर्द के पास नाले के उसपार गादेर तरफ के जंगल में एक अधेड़ महिला का शव पड़ा होने की सूचना थाना धरनावदा पुलिस को प्राप्त हुई। मौके पर पुलिस ने पहुंचकर जांच पड़ताल शुरू की और थाने में मामला दर्ज किया। इस दौरान एफएसएल अधिकारी आरसी अहिरवार, एसडीओपी राघौगढ़ बीपी तिवारी एवं टीआई ने घटनास्थल पर बारीकी से निरीक्षण किया। इस दौरान मृतिका के परिजनों से पूछताछ की गई तो ज्ञात हुआ कि मृतिका 30 अक्टूबर की शाम को गांव में परिवार के बच्चों में हैंडपंप पर पानी भरने को लेकर हुए विवाद की रिपोर्ट कराने गई थी। जिसे रिपोर्ट करने जाने से रोकने के लिए गांव के ही मुकेश बंजारा को उसके पीछे भेजा गया था। लेकिन रात के 8 बजे तक मृतिका के वापस ना आने पर पीछे भेजे गये मुकेश बंजारा से पूछे जाने पर उसके द्वारा साफ मना करते हुये कहा गया कि उसे मृतिका मिली ही नहीं थी और वो तो वापस गांव आ गया था। यही नहीं आरोपी द्वारा मृतिका के परिजनों के साथ रातभर उसे ढूंढने का नाटक करता रहा। जांच के दौरान पुलिस को मुकेश बंजारा पर संदेह गया और उसकी तलाश गांव में की जाने पर उसके ना मिलने पर संदेह और बढ़ गया। बाद में मृतिका के शव का पीएम कराया गया, जिसमें प्रथमदृष्टया मृतिका के साथ बलात्कार के बाद हत्या करने की घटना घटित होना पाया। रविवार को पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कबूल किया। पुलिस पूछताछ में उसने बताया कि वह तथा मृतिका चौकी रूठियाई में रिपोर्ट कर वापस अपने गांव बोरखेड़ा गिर्द जंगल के रास्ते आ रहे थे। इसी दौरान जंगल में शराब पीकर उसकी बुरी नीयत हो गई और मृतिका के साथ जबरदस्ती बलात्कार किया। इस दौरान मृतिका ने विरोध किया और घर पर सबको बताने की चेतावनी दी। जिससे डरकर आरोपी ने मृतिका के मुंह एवं गला दबाकर हत्या कर दी।

Post a Comment

0 Comments