जिम्मेदारों की अनदेखी के चलते शहरभर में मोबाईल टॉवर का फैला अवैध जाल

एसडीएम, सीएमओ से शिकायत के बावजूद नहीं रूका काम तो कलेक्टोरेट पहुंचे विध्यांचल कॉलोनीवासी



CLICK -

गुना। (प्रदेश केसरी) जिला मुख्यालय सहित अंचलभर में अवैध रूप से रहवासी क्षेत्रों में मोबाईल टॉवर लगाए जाने का गौरखधंधा जोरों पर है। आम लोगों की जान की परवाह किए बिना संबंधित कंपनी के कर्ता-धर्ता जिम्मेदार अधिकारियों की मिलीभगत से धड़ल्ले से कहीं भी मोबाईल टॉवर खड़े कर रहे हैं। वहीं संबंधित अधिकारियों की चुप्पी इन लोगों के हौंसले बुलंद कर रही है। मोबाईल टॉवर के खिलाफ आए दिन किसी न किसी कॉलोनी के रहवासी लामबंद होकर कलेक्टर से लेकर अन्य प्रशासनिक अधिकारियों के समक्ष गुहार लगा रहे हैं, लेकिन कार्रवाई के नाम पर कुछ समय के लिए काम रूकवाने के सिवा कुछ नहीं हो रहा है।
कुछ ऐसा ही मामला शुक्रवार को शहर की विध्यांचल कॉलोनी में सामने आया है। यहां अमित शिवहरे के निवास पर मकान मालिक एवं एयरटेल कंपनी के अधिकारी धड़ल्ले से मोबाईल टॉवर लगवा रहे हैं। इसकी शिकायत रहवासियों ने एसडीएम एवं सीएमओ के समक्ष पूर्व में कर चुके, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। लामबंद रहवासियों ने शुक्रवार को कलेक्टोरेट पहुंचकर कलेक्टर से मोबाईल टॉवर का काम रूकवाने की मांग की है। कॉलोनीवासियों के अनुसार उक्त मोबाईल टॉवर सघन रहवासी बस्ती में लग रहा है। कॉलोनी में कई वृद्धजन रहते हैं जो ह्दय रोग के मरीज हैं। ऐसे में टॉवर से निकलने वाली हानिकारक विकिरणें लोगों को बीमार करेंगी। कलेक्टर को दिए आवेदन में विध्यांचल कॉलोनीवासियों ने शीघ्र उक्त मोबाईल टॉवर का काम रूकवाने की मांग की है।

मधुसूदनगढ़ में तहसीलदार से कलेक्टर तक के आदेश हवा में


इधर जिले के मधुसूदनगढ़ कस्बे के वार्ड 20 में हबीब खान द्वारा निजी भूमि पर मोबाईल टॉवर का काम करवाया जा रहा है। यहां तो दो-दो तहसीलदारों ने मोबाईल टॉवर काम रूकवाने का आदेश दिया। स्वयं कलेक्टर ने हस्ताक्षेप कर तहसील कर्मचारियों से काम रूकवाने का आदेश दिया। लेकिन तमाम आला अधिकारियों के आदेश को हवा में उड़ाते हुए मोबाईल टॉवर का काम रात के अंधेरे में जारी है। दीपावली पर त्यौहारों की छुट्टी में जमीन मालिक एवं कंपनी अधिकारियों ने पूरा  फायदा उठाते हुए युद्धस्तर पर टॉवर का काम करवाया। टॉवर लगवाने की जल्दबाजी में मात्र कुछेक फुट गढ्डा खोदकर ढांचा खड़ा करने की तैयारी है। इधर टॉवर के खिलाफ लगातार हो रही हैं शिकायतों पर स्वयं तहसीलदार ने मौके पर पहुंचकर संबंधित जमीन मालिक को सख्त हिदायत देते हुए एफआईआर की चेतावनी दी। लेकिन इन सबके बावजूद यहां मोबाईल टॉवर का कार्य धड़ल्ले से जारी है।

Post a Comment

0 Comments