राष्ट्रीय एकता के बेजोड शिल्पी थे सरदार पटेल- श्री कोष्टा

गुना सहित चांचौडा, राघौगढ व आरोन में मनाया गया राष्ट्रीय एकता दिवस



CLICK -

गुना। (प्रदेश केसरी) सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती के उपलक्ष्य में राष्ट्रीय एकता दिवस का आयोजन जिला मुख्यालय सहित सिविल कोर्ट चांचौडा, राघौगढ़ व आरोन में किया गया। उक्त आयोजन में राष्ट्रीय एकता दिवस की शपथ का सामूहिक वाचन किया गया। जिला मुख्यालय गुना पर सरदार वल्लभ भाई पटेल के विचारों की प्रासंगिकता के संबंध में विचार गोष्ठी का आयोजन भी किया गया। उक्त विचार गोष्ठी में जिला न्यायाधीश राजेश कुमार कोष्टा ने स्व. श्री पटेल के व्यक्तित्व  पर प्रकाश डालते हुआ कहा कि सरदार पटेल राष्ट्रीय एकता के बेजोड शिल्पी व नये भारत के निर्माता थे। देश के विकास में उनका महत्व सदैव याद रखा जाएगा। उनकी संगठन कुशलता, राष्ट्रीय एकता के प्रति अटूट आस्था थी। 560 रियासतों को भारत में एकीकृत कर उन्होंने आज के भारत की नींव रखी। भारत विविधताओं का देश है इसलियेे राष्ट्र की एकता को बनाया रखना महत्वपूर्ण है आज के युवाओं को ही एक होकर देश को एकता का संदेश देना होगा। किंतु पहले परिवारों में एकता को जगाना होगा तभी हम देश की एकता की उम्मीद कर सकते है। जिला मुख्यालय पर आयोजित कार्यक्रम में न्यायाधीशगण प्रदीप मित्तल, संजय चतुर्वेदी, एके मिश्र, आरपी जैन, सचिन कुमार घोष, एमके वर्मा, भूपेन्द्रसिंह कुशवाह, अमोघ अग्रवाल, जिला विधिक सहायता अधिकारी श्री दीपक शर्मा एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण का स्टाफ उपस्थित रहा। तहसील विधिक सेवा समिति चांचौड़ा, राघौगढ़ व आरोन में अपर जिला न्यायाधीश संजय श्रीवास्तव, न्यायिक मजिस्ट्रेट परमानन्द चौहान, शशांक खरे व तहसील न्यायालय के स्टाफ  द्वारा सहभागिता दी गयी।

Post a Comment

0 Comments