अर्णव की गिरफ्तारी के विरोध में विद्यार्थी परिषद ने किया प्रदर्शन

प्रवेश के लिए भी कॉलेज में छात्र हो रहे परेशान



CLICK -

गुना। (प्रदेश केसरी) एक ओर जहां कॉलेजों में प्रवेश के लिए छात्र परेशान हो रहे हैं, वहीं दूसरी ओर छात्रों का संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा टीवी पत्रकार अर्नब गोस्वामी की गिरफ्तारी को लेकर विरोध-प्रदर्शन किया। इस मौके पर परिषद ने हनुमान चौराहे पर गुरुवार को महाराष्ट्र सरकार का पुतला फूंका और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इस अवसर पर परिषद के कार्यकर्ताओं ने कहा कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर हमला किया है। देश के चौथे स्तंभ की आजादी पर यह पूर्व नियोजित हमला है। एक वरिष्ठ पत्रकार और देश के टीवी चैनल के संपादक को गिरफ्तार करना देश के चौथे स्तंभ पर हमला है।
इसकी चौतरफा निंदा हो रही है। परिषद ने मांग की कि गिरफ्तार संपादक को तत्काल रिहा किया जाए।
प्रदर्शन के दौरान परिषद कार्यकर्ताओं ने कहा कि अर्नव ने देश विरोधी ताकतों को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया था। टुकड़े टुकड़े गैंग का चेहरा बेनकाब किया था। पालघर में हुए संतों की हत्या आवाज उठाया। बिहार के बेटे सुशांत सिंह राजपूत के हत्या मामले में रुचि दिखाते हुए बॉलीवुड के माफियाओं का काला चेहरा उजागर किया था। इससे परेशान महाराष्ट्र की सरकार ने उसे खिलाफ साजिश की है। क्योंकि उसने सोनिया सेना एवं शिवसेना के चरित्र को लोगों के सामने उजागर किया। वे एक साहसी पत्रकार हैं। उन्हें सरकार डरा नहीं सकती। परिषद ने कहा कि अगर अर्नव गोस्वामी को न्याय नहीं मिला तो परिषद कार्यकर्ता सड़कों पर उतर कर उग्र आंदोलन को तैयार हैं।

Post a Comment

0 Comments