सीएमएचओ को कलेक्टर की दो टूक, आपका मॉनिटरिंग सिस्टम ठीक नही तो प्रत्येक सप्ताह में ब्लॉक जाएं

कलेक्टर ने की स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा, बैठक से नदारद राघौगढ़ बीएमओ की कटी वेतन


CLICK -

गुना। (प्रदेश केसरी) प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की प्राथमिकता वाले कार्यो आयुष्मान कार्ड, कुष्ट उन्मूलन कार्यक्रम को प्राथमिकता के आधार पर समय-सीमा में लक्ष्यों की पूर्ति के निर्देशों के क्रम में गुना जिले में बनाये जा रहे आयुष्मान कार्ड एवं अन्य विभागीय योजनाओं की समीक्षा गुरुवार को कलेक्टोरेट सभागार में आयोजित की गयी। इसमें एडीएम विवेक रघुवंशी एवं सीएमएचओ बुनकर के अतिरिक्तर सभी ब्लॉंक लेवल अधिकारी उपस्थित रहे। बैठक में कलेक्टर कुमार पुरूषोत्तम द्वारा जिला चिकित्सालय को प्रतिदिन 300 आयुष्मान कार्ड बनाये जाने का लक्ष्य निर्धारित किया तथा बीएमओ को 100 कार्ड प्रतिदिन बनाये जाने का लक्ष्य भी निर्धारित कर समय सीमा में कार्ड बनाये जाने के निर्देश दिए।
बैठक में स्वच्छता मिशन के अंतर्गत स्वच्छता पर विशेष जोर देते हुए कहा कि जिले की रैंकिंग अंडर 10 कम से कम होना चाहिये। विभाग अंतर्गत संचालित समस्त योजनाओं का लक्ष्य  शत-प्रतिशत प्राप्त करने के प्रयास होने चाहिये। उन्होंने कहा कि यदि निर्धारित रैंकिंग से कम रैंकिंग आने पर संबंधित सीएमएचओ श्री बुनकर के विरूद्ध कार्रवाई की जाएगी। श्री बुनकर को समझाइश दी गयी कि उनका नियंत्रण मॉनिटरिंग सिस्टम ठीक नही है। प्रत्येक सप्ताह में ब्लॉक का भ्रमण करें। मॉनिटरिंग सिस्टम विकसित करें। उन्होंने मलेरिया विभाग को निर्देशित किया कि वे प्रतिदिन कम से कम 15 स्लाइड बनायें। बीएमओ राघौगढ़ बैठक में उपस्थित नही हुए इस पर कलेक्टर द्वारा नाराजगी व्यक्त करते हुए उनका एक दिन का वेतन काटे जाने के निर्देश भी दिये गए। अभियान में स्टेट लेवल पर क्या रैंकिंग रही उसकी समीक्षा अगली बैठक में की जाएगी।

 अस्पताल की व्यवस्थाएं सुधारने के दिए निर्देश


कलेक्टर ने सिविल सर्जन को स्पष्ट शब्दों में हिदायत दी कि हमारा अस्पताल नंबर वन अस्पताल होना चाहिये। वे ऐसे समस्त प्रयास करें जिससे हमारा अस्पताल नंबर वन हो।

Post a Comment

0 Comments