2020 की विदाई बेला में गुना से बजरंगगढ़ रवाना हुए पदयात्री

कोविड-19 गाईडलाईन के चलते चुनिंदा पात्र करेंगे शांतिनाथ भगवान का महामस्तकाभिषेक


CLICK -

गुना। (प्रदेश केसरी) 2020 की विदाई बेला में गुरुवार को जैन समाज के श्रद्धालु गुना से बजरंगगढ़ स्थित श्री शांतिनाथ भगवान के दरबार में रवाना हुए। कोविड-19 गाईडलाईन का पालन करते हुए मुंह पर मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग के साथ पदयात्रा देर शाम बजरंगगढ़ पहुंची। यहां रात्रि में श्रद्धालुओं ने आरती की। 1 जनवरी की सुबह मंगलबेला में भगवान शांतिनाथ, कुंथुनाथ एवं अरहनाथ भगवान का महामस्तकाभिषेक होगा। कोविड-19 के चलते इस बार भगवान का महामस्तकाभिषेक चुनिंदा लोगों द्वारा किया जाएगा। इस दौरान नूतन वर्ष पर होने वाली शांतिधारा में श्रद्धालुओं के नाम बोले जाएंगे। इसके पूर्व गुरुवार दोपहर श्रद्धालु गुरुदेव के नारे लगाते हुए बजरंगगढ़ रवाना हुए। उल्लेखनीय है कि मुनि पुंगव सुधासागर महाराज द्वारा शुरु कराई इस ऐतिहासिक पदयात्रा और महामस्तकाभिषेक में गुना के अलावा आरोन, रुठियाई सहित अंचलभर से जैन श्रद्धालु शामिल होते हैं। बजरंगगढ़ कमेटी अध्यक्ष इंजी. एसके जैन एवं मंत्री प्रदीप जैन ने बताया कि कोविड-19 के चलते इस बार कार्यक्रम को सूक्ष्म रूप से किया जा रहा है। इस दौरान अभिषेक से लेकर अन्य धार्मिक क्रियाएं चुनिंदा लोगों द्वारा की जाएंगी। वहीं प्रतिवर्ष 1 जनवरी को निकलने वाले वार्षिक विमानोत्सव भी सूक्ष्म रूप से निकाले जाएंगे।

Post a Comment

0 Comments