बोहरा मस्जिद कॉम्प्लेक्स टूटने से घबराए दुकानदार पहुंचे कलेक्ट्रेट

कॉम्प्लेक्स को शासन राजसात कर हमसे ले किराया- दुकानदार



CLICK -

गुना। (प्रदेश केसरी) जिला प्रशासन द्वारा बोहरा मस्जिद कॉम्प्लेक्स पर अवैध निर्माण का नोटिस चस्पा करने के बाद गुरुवार को कॉम्प्लेक्स दुकानदारों ने कलेक्टोरेट पहुंचकर ज्ञापन सौंपा। दुकानदारों ने अपनी आजीविका का हवाला देकर उक्त काम्प्लेक्स को राजस्व विभाग के अधीन करने की मांग की। जिससे वह जो मासिक किराया बोहरा कमेटी को देते थे वह मासिक किराया नपा या कोर्ट में जमा करने को तैयार हैं। जिससे कॉम्प्लेक्स से जुड़े दुकानें के 500 से अधिक परिवारों की आजीविका पर आए संकट को टाला जा सके। कलेक्टर के नाम सौंपे ज्ञापन में दुकानदारों ने कहा कि वह पिछले 12 वर्षों से बोहरा कॉम्प्लेक्स में अपनी दुकानों से आजीविका संचालित कर रहे हैं। यह दुकानें उन्होंने दाउदी बोहरा जमात से पगड़ी राशि जमा कर एवं मासिक किराया पर ली थी। विगत कई दिनों से कॉम्प्लेक्स को लेकर सोशल मीडिया में खबरें हैं कि यह निर्माण अवैध है एवं तोडऩे की कार्रवाई होगी। वही गत दिवस जिला प्रशासन ने भी इस पर अवैध निर्माण का नोटिस चस्पा कर दिया। ऐसे में दुकानदारों में घबराहट है। दुकानदारों और उनके परिवारों के समक्ष आजीविका का संकट खड़ा हो गया है। ज्ञापन में व्यापारियों ने कहा कि कोरोना के चलते पहले ही पिछले आठ माह से भारी मंदी का वह सामना कर रहे हैं। जैसे-तैसे उन्होंने आजीविका को पटरी पर लाने की कोशिश की। अब प्रशासन की इस कार्रवाई ने उनके समक्ष भारी संकट खड़ा कर दिया है। ज्ञापन में समस्त दुकानदारों ने उनकी आजीविका को ध्यान में रखते हुए कॉम्प्लेक्स को राजसात कर प्रशासन द्वारा किराया वसूले जाने की मांग की गई।

Post a Comment

0 Comments