शिवराज कैबिनेट का तीसरा विस्तार, सिंधिया समर्थक सिलावट व राजपूत फिर बनें मंत्री


CLICK -

भोपाल। (प्रदेश केसरी) मध्य प्रदेश उपचुनाव के करीब 53 दिन बाद शिवराज सरकार का आज तीसरा कैबिनेट विस्तार हो गया है। राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने राज्यभवन में बहुत सादगीपूर्ण कार्यक्रम में दोनों मंत्रियों को शपथ दिलाई हैं। दोनों मंत्रियों के शपथ कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा, गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस राजभवन में मौजूद रहे।
राज्यपाल  मंत्रियों की शपथ के बाद मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय के नवनियुक्त मुख्य न्यायाधीश मोहम्मद रफीक को भी पद एवं गोपनीयता की शपथ का कार्यक्रम तय है। 
बता दें पिछले साल मार्च में सरकार गठन के बाद सबसे पहले 5 मंत्रियों ने शपथ ली थी। फिर 2 जुलाई को 28 मंत्रियों ने शपथ ली. इस तरह से राज्य में कुल 33 मंत्री हो गए थे। एमपी कैबिनेट में मुख्यमंत्रियों समेत मंत्रियों की संख्या अधिकतर 34 हो सकती है।
सिंधिया के साथ कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आए एक दर्जन से ज्यादा नेताओं को शिवराज सरकार की कैबिनेट में मंत्री बनाया गया था, जिनमें से दो मंत्री तुलसीराम सिलावट और गोविंद सिंह राजपूत ने छह महीने का कार्यकाल पूरा होने के चलते उपचुनाव से पहले इस्तीफा दे दिया था। इसके अलावा उपचुनाव में तीन मंत्रियों की हार हुई थी, जिसके चलते महिला एवं बाल विकास मंत्री रहीं इमरती देवी, कृषि राज्यमंत्री रहे गिर्राज डंडोतिया और एंदल सिंह कंसाना को इस्तीफा देना पड़ा था। इन तीनों मंत्रियों का इस्तीफा स्वीकार भी कर लिया गया है।

Post a Comment

0 Comments