कोतवाली पुलिस की तत्परता से फैक्ट्री में चोरी करने वाला गिरोह दो घंटे में पकड़ा


CLICK -

गुना। (प्रदेश केसरी) जिले में चोरी की वारदातों पर अंकुश लगाने व चोरों को गिरफ्तार कर जेल भेजने के लिए गुना पुलिस द्वारा की जा रहीं कार्यवाहियों की कड़ी में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक  टी एस बघेल के निर्देशानुसार गुना कोतवाली पुलिस द्वारा अपने क्षेत्र की आरसीसी पाइप बनाने की एक फैक्ट्री से चोरी करने वाले गिरोह को महज दो घंटे में दबोचने में सफलता हासिल की है।
  उल्लेखनीय है कि दिनांक 10 फरवरी को कोतवाली क्षेत्र के इंड्रस्ट्रियल एरिया स्थित आरसीसी पाइप बनाने की एक फैक्ट्री के संचालक द्वारा कोतवाली थाना पुलिस को रिपोर्ट किया कि उनकी फैक्ट्री में लंबे समय से पाइप बनाने के लोहे के सांचों (प्लेटों) की चोरी की जा रही है और दिनांक 10 फरवरी के सुबह भी कोई अज्ञात चोर तीन प्लेटों की चोरी कर ले गए हैं। फरियादी द्वारा की गई रिपोर्ट पर थाना कोतवाली गुना में अज्ञात आरोपी के विरूद्ध चोरी का प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।
  चोरी की इस घटना को कोतवाली टीआई उमेश मिश्रा द्वारा गंभीरता से लिया और चोरों का पता लगाने उप निरीक्षक अमित अग्रवाल के नेतृत्व में तुरंत एक टीम का गठन किया। इस टीम द्वारा चोरों की पतारसी के लिये फेक्ट्री के आसपास रहने एवं काम करने वाले लोगों की गतिविधियों पर नजरें रखना जारी किया। इसी बीच कोतवाली टीआई उमेश मिश्रा को ईदगाह बाड़ी रोड पर रपटे के पास एक व्यक्ति के संदिग्ध सामान लेकर जाने की मुखबिर से सूचना मिलने पर उनके द्वारा तत्परता दिखाते हुए पुलिस टीम रवाना की गई और टीम ने मौके पर पहुंचकर उस व्यक्ति की घेराबंदी कर उसे पकड़ लिया, जिसके पास मिली प्लेटों के संबंध में पूछताछ करने पर उसने उक्त प्लेटें इंड्रस्ट्रियल एरिया स्थित आरसीसी पाइप बनाने की उस फैक्ट्री से ही चोरी करना बताया एवं इस कार्य में आरोन निवासी दो अन्य व्यक्तियों का भी साथ होना बताया। पुलिस टीम द्वारा आरोपी के बताये अनुसार आरोन निवासी दोनों व्यक्तियों को भी तुरंत ही धर दबोचा। इन तीनों चोरों के कब्जे से फैक्ट्री से चोरी गई प्लेटों को भी पुलिस ने जप्त कर लिया गया है, जिनकी अनुमानित कीमत करीब 20,000/-रूपये है। चोरी की इस वारदात में शामिल तीनों व्यक्तियों को पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय पेश किया जहां से सभी को जेल भेज दिया है।
    कोतवाली थाना पुलिस की इस कार्रवाई में टीआई उमेश मिश्रा, उप निरीक्षक अमित अग्रवाल, आरक्षक प्रवीण दीवान, आरक्षक नरेंद्र रघुवंशी, आरक्षक अमित कलावत, आरक्षक प्रमेंद्र भदोरिया, आरक्षक भानु रघुवंशी, आरक्षक आरक्षक नीलेश रघुवंशी, आरक्षक लक्ष्मीनारायण धाकड,आरक्षक उमेश शर्मा, आरक्षक मनोज कलावत एवं सैनिक रोहित पवार की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।

Post a Comment

0 Comments