बजट घटाने से बिफरीं आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, प्रदर्शन कर फूंका पुतला


CLICK -

गुना। (प्रदेश केसरी) केंद्र सरकार द्वारा पेश किए गए बजट में महिला बाल विकास विभाग सहित आंगनबाड़ी, मिड-डे मील आदि योजनाओं का बजट  कम किए जाने से आंगनवाड़ी कार्यकर्ता बिफर गई। गुरुवार को हनुमान चौराहे पर उन्होंने एकत्र होकर न केवल विरोध प्रदर्शन किया बल्कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला भी फूंका। प्रदर्शनकारियों ने चेतावनी दी कि यदि समस्याओं का समाधान नहीं हुआ तो भाजपा विधायकों और नेताओं का घेराव भी करेंगे।
इस मौके पर आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं ने मांग रखी कि उन्हें न्यूनतम वेतन 18 हजार रुपये करने, वर्ष में 11 महीने का वेतन देने, कच्चे कर्मचारियों को पक्का करने सहित अन्य मांगें पूरी की जाएं। इस दौरान उन्होंने सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और पुतला फूंका। आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं ने कहा कि भाजपा सरकार कई बार आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को लुभावने वायदे कर चुकी है। लेकिन जब बजट पारित कर दिया तो हमें कोई लाभ नहीं दिया। बजट के विरोध में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं में सरकार के खिलाफ रोष है। उन्होंने कहा कि देशभर में विभिन्न परियोजनाओं में एक करोड़ से ज्यादा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता काम कर रहे हैं, जिनमें 95 प्रतिशत महिलाएं हैं। इन वर्करों को मामूली सा मानदेय देकर सरकारें वर्करों की मेहनत की भारी लूट कर रही हैं।

Post a Comment

0 Comments