जिले के केदारनाथ, गादेर, मुहालपुर एवं बाग वागेश्वर इत्यादि धार्मिक स्थलों पर महाशिवरात्रि पर्व पर मेले-ठेले प्रतिबंधित

मास्‍क लगाकर ही पूजा-अर्चना और दर्शन की अनुमति , धारा 144 अंतर्गत प्रतिबंधित आदेश जारी




CLICK -

गुना। (प्रदेश केसरी) कलेक्‍टर एवं जिला दण्‍डाधिकारी कुमार पुरूषोत्‍तम ने कहा है कि गुना जिले में केदारनाथ, गादेर, मुहालपुर एवं बागवागेश्वर इत्यादि धार्मिक स्थलों पर महाशिवरात्रि पर्व पर विशाल मेलों का आयोजन किया जाता है। जिनमें अत्यधिक संख्या में श्रद्धालुओं का आगमन होता है। वर्तमान में कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की संख्या में वृद्धि होने के कारण तथा लोक स्वास्थ्य को दृष्टिगत रखते हुये उक्त मेलों को प्रतिबंधित करने हेतु अनुविभागीय दण्डाधिकारियों द्वारा भी प्रतिवेदन प्रस्तुत किये गये हैं।
उन्‍होंने परिस्थितियों और लोक स्वास्थ्य को दृष्टिगत रखते हुये दण्ड प्रक्रिया संहिता-1973 की धारा 144 के अन्तर्गत आगामी महाशिवरात्रि पर्व पर जिले के उक्त धार्मिक स्थलों पर आयोजित होने वाले मेलों को प्रतिबंधित कर दिया है। उन्‍होंने आदेशित किया है कि उक्त स्थलों पर महाशिवरात्रि के अवसर पर आयोजित किये जाने वाले मेले प्रतिबंधित रहने से उक्त धार्मिक स्थलों पर लगाने वाली अस्थायी दुकानें, झूले एवं ठेले प्रतिबंधित रहेंगे। दर्शनार्थी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन एवं मास्क का उपयोग करते हुये धार्मिक स्थलों/मंदिरों में दर्शन कर सकेंगे एवं उक्त स्थलों पर स्थानीय स्तर पर पूजा/अर्चना किये जा सकेंगे। 
उन्‍होंने कहा है कि जारी आदेश की तामीली प्रत्येक व्यक्ति पर सम्यकरूपेण कराया जाना एवं सुनवाई किया जाना संभव नहीं है। अतः दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 (2) के अन्तर्गत जारी आदेश एक पक्षीय रूप से पारित किया गया है।

Post a Comment

0 Comments