अब सरकारी अस्पताल भी महंगाई की मार से नही रहा अछूता- शेखर वशिष्ठ


CLICK -

गुना। (प्रदेश केसरी) कोरोना काल में देश की जनता बड़े ही नाजुक दौर से गुजर रही है ऐसे में  आमजन बाजार की पूर्व से ही महंगाई पेट्रोल ,डीजल,खाद्य पदार्थ आदि की खरीदी से तो लगातार परेशान हो ही रही थी पर अब शेष कसर जिला अस्पताल ने भी पूरी कर ली है वहां भी महंगाई डायन ने अपने पांव पसारना शुरू कर दिए है। हाल ही में जिला रोगी कल्याण समिति गुना के निर्णय से अब जिले की जनता परेशान दिख रही है। अब सरकारी अस्पताल में दाखिले की शुल्क 50 रुपए कर दी गई है। जिला कांग्रेस प्रवक्ता शेख़र वशिष्ठ ने बताया कि आम जन के ऊपर ये एक तरह से जबरिया भार लादा गया है जिससे आम जनो में भारी आक्रोश् है इससे पूर्व श्री वशिष्ठ पूर्व में रोगी कल्याण समिति में तत्कालीन सांसद के प्रतिनिधि भी रहें है जो वहां की व्यवस्था से पूर्ण रूपसे वाकिफ भी है उनके अनुसार यह दर बढ़ाना बिल्कुल अनुचित है। तथा वे जन सेवा में आम आदमी की हर संभव मदद के  लिए जिला चिकित्सालय के सम्पर्क में हमेशा रहते  हैं श्री वशिष्ठ ने बताया कि इस दर के बढ़ने से कई  गरीब व मध्यम वर्ग के लोगों ने सरकारी अस्पताल में दाखिले की शुल्क 50 रुपए पर कड़ा एतराज जताया है। कांग्रेस प्रवक्ता ने बताया कि आमजन कोरोना व महंगाई से पहले ही परेशान है ऊपर से रोगी कल्याण समिति का यह निर्णय करंट का एहसास करा रहा है। यह आम आदमी की आवाज है कि दाखिले की बढ़ी हुई शुल्क में तत्काल कमी की जावे कांग्रेस प्रवक्ता शेख़र वशिष्ठ ने कहा कि शीघ्र ही आम जन के इस मुद्दे को लेकर जिला कांग्रेस का प्रतिनिधि मंडल क्लेक्टर्  के संज्ञान में लेकर जावेगा जिससे आम गरीब एवं मध्यम वर्ग के परिवार राहत महसूस कर सके।

Post a Comment

0 Comments